Saturday, May 18

’अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस, जिले के 1 लाख मनरेगा मजदूरों ने कार्य की गुणवत्ता और 100 दिन का रोजगार प्राप्त करने की ली शपथ’

कलेक्टर ने मजदूरों का बढ़ाया मनोबल, सीईओ जिला पंचायत ने दी बधाई

धमतरी 1 मई 2024 मजदूरों की उपलब्धियों का सम्मान और उनके द्वारा दिये गये योगदान को याद करने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस मनाया जाता है। धमतरी जिले के सभी विकासखंड और ग्राम पंचायतों में मजदूरांे को संगठित कर आपसी एकता मजबूत करने और उन्हें उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस अवसर पर जिले के 1 लाख से ज्यादा मनरेगा मजदूरों ने एक साथ शपथ ली। इस दौरान जिले की 370 ग्राम पंचायतों के लगभग 5 हजार 500 वरिष्ट मजदूरों को श्रीफल प्रदान कर सम्मानित किया गया।

कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी ने मजदूरों का बढ़ाया मनोबल
कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी ने जिले के सभी मजदूरों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि 1 मई को अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि इस तप्ती गर्मी में जब हम अपने घर से भी बाहर जाने के लिए भी चूकते हैं, मजदूर लगातार काम करते रहते हैं और इकॉनॉमी को आगे बढ़ाने के लिए अपना योगदान देते रहते हैं। आज मैं हर उस मजदूर को धन्यवाद देती हूं जो अपने घर से बाहर निकलकर अपने श्रमदान देते हुए अपना योगदान देते हैं। धमतरी जिले के सभी ग्राम पंचायतों में सभी नरेगा मजदूरों ने आज इस दिवस को बड़े उत्साह के साथ मनाया है। इस अवसर पर नरेगा स्थल पर अनेक तरह के कार्यक्रम किए गए। शपथ ली गई कि कार्य को सुचारू और अच्छे ढंग से किया जाएगा और गुणवत्ता पर ध्यान दिया जायेगा। शपथ ली गई कि हर अंतिम व्यक्ति को जिसे मजदूरी की आवश्यकता है, उसे मजदूरी दी जायेगी और गांव के विकास के लिए अपना योगदान दिया जायेगा।

सीईओ जिला पंचायत ने दी बधाई
सीईओ जिला पंचायत सुश्री रोमा श्रीवास्तव ने सभी मजदूर भाइयों एवं बहनों को विश्व मजदूर दिवस की बधाई दी। उन्होंने कहा कि श्रमिकों का समाज में योगदान न केवल आर्थिक रूप से है बल्कि उनके अधिकारों और सामाजिक स्थिति के मामले में बहुत महत्वपूर्ण है। धमतरी जिले में मनरेगा योजना के तहत कुल 01 लाख 45 हजार 899 सक्रिय पंजीकृत परिवार हैं जिसमें 02 लाख 99 हजार 818 श्रमिक हैं और 01 लाख 49 हजार 909 सक्रिय महिला श्रमिक लाभान्वित हो रहे हैं। 50 दिवस से अधिक कार्य किये श्रमिकों का कार्यस्थल में उनका हौसला बढ़ाने के लिए सम्मानित किया गया।

मनरेगा मजदूरों ने छत्तीसगढ़ी बोली में ली शपथ
जिले में संचालित मनरेगा के कार्यस्थल पर उपस्थित मजदूरों में छत्तीसगढ़ी बोली में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत गांव के जम्मो कमइय्या मजदूर मन 01 मई ला मजदूर दिवस के रुप मा मनावत ए शपथ लेवत हन के योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष मा कम से कम 100 दिवस के मजदूरी कमा के आजीविका गतिविधि ले आत्मनिर्भर बनबो। हमन यहू जानथन के गरमी के दिन मा गहरावत जल संकट ले निबटे बर कुंआ, तालाब, डबरी म पानी ला संजो के ओखर उपयोगिता ला जन-जन तक बगराबो। अपन कर्तव्य के प्रति जागरूक हो के पानी ला संजोये खातिर लोगन ला प्रेरित घलो करबोन। स्वीकृत कार्य ला ईमानदारी से करबो अउ गांव ला आदर्श गांव बनाबो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *