Tuesday, May 21

जशपुरनगर : मतदान केन्द्रों में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने कलेक्टर ने तैयारियों की समीक्षा की

जिले में मतदान निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण संपन्न हो, सुनिश्चित   करने के दिए निर्देश
कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालों पर कार्यवाही के दिये निर्देश
मतदान केंद्रों में पेयजल,स्वास्थ्य, छाया के संबंध में दिए निर्देश
मतदान केंद्र पर मोबाइल फोन ले जाना पूर्णतः प्रतिबंधित, नियमों का उल्लंघन करने पर होगी एफआईआर

जशपुरनगर 04 मई 2024/कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ रवि मित्तल ने लोकसभा निर्वाचन 2024 अन्तर्गत जशपुर जिले में निष्पक्ष  और शांतिपूर्ण मतदान कराने सभी सेक्टर अधिकारियों,सहायक रिटर्निंग अधिकारियों, नोडल अधिकारियों, डाटा कलेक्शन टीम की जिला पंचायत सभाकक्ष में बैठक ली। उन्होंने निर्देशित किया कि मतदान केन्द्रों में मूलभूत सुविधाओं के साथ ही परिसर में मतदाताओं हेतु छाया, पेयजल आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। मतदान केन्द्रों में दिव्यांग एवं वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं के लिए व्हील चेयर, वालिंटियर्स की व्यवस्था रखी जाये।
कलेक्टर ने मतदान दिवस के दिन स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट रहने के निर्देश देते हुए स्वास्थ्य केन्द्रों को खुला रखने, डॉक्टर सहित अन्य स्टाफ तैनात रखने, एंबुलेंस की व्यवस्था करने और ओआरएस सहित अन्य दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।उन्होंने मतदान दिवस के दिन आवश्यक तैयारी के संबंध में एसडीएम तथा जनपद सीईओ को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने मतदान दिवस के पूर्व मतदान केन्द्रों की सफाई कराने, बिजली एवं फर्नीचर व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि किसी भी मतदान केंद्र में ईवीएम संबंधित खराबी की शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित सेक्टर अधिकारी तत्काल ईवीएम इंजीनियर के सहयोग से ईवीएम को बदलें। जिन मतदान केन्द्रों में अधिक मतदाता हैं, वहां समय पर मतदान कराने हेतु अतिरिक्त कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाये। वर्तमान में गर्मी को देखते हुए कलेक्टर ने निर्देशित किया कि परिसर में शीतल पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए  निर्देश दिए।
कलेक्टर ने मतदान दिवस के दिन समय पर मॉक पोल कराने ,मतदान प्रतिशत की रिपोर्टिंग करने, मतदान दलों को सभी सामग्रियों  के साथ पोलिंग किट का वितरण करने, मतदान कर्मियों को भोजन उपलब्ध कराने, दिव्यांग एवं निःशक्त मतदाताओं को सुविधा उपलब्ध कराने, नेटवर्क विहीन क्षेत्रों में रनर की व्यवस्था करने, सेक्टर अधिकारियों सहित अन्य ईवीएम परिवहन वाले वाहनों में ट्रैकिंग हेतु जीपीएस लगाने, केन्द्रीय बलों के ठहरने की व्यवस्था करने के संबंध में भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने विद्युत विभाग को निर्देशित किया कि मतदान दिवस के दिन अनावश्यक विद्युत आपूर्ति न रोकी जाये। कलेक्टर ने मतदान दलों को सामग्री वितरण तथा वापसी के दौरान निर्धारित काउंटर पर मास्टर ट्रेनर तथा अन्य जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने और समय पर सामग्रियों के वितरण के निर्देश दिए। उन्होंने मतदाताओं को मतदान दिवस के दिन भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी मतदाता परिचय पत्र (ईपिक कार्ड) एवं मान्य पहचान पत्र लाने हेतु जागरूक करने के संबंध में भी निर्देश दिए। मतदाता सूचना पर्ची पहचान पत्र के रूप में मान्य नहीं होगा। निर्वाचन आयोग द्वारा मान्य एपिक कार्ड,आईडी दिखाना अनिवार्य होगा।
कलेक्टर ने कहा कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदान केंद्रों में मोबाइल ले जाना पूर्णता प्रतिबंध रहेगा। भारत निर्वाचन आयोग का स्पष्ट निर्देश है कि मतदान के दिन कोई भी मतदाता मोबाइल लेकर मतदान केंद्र में प्रवेश न कर सके। इसके लिए सभी पोलिंग बूथों पर सख्त निगरानी रखी जाएगी। मतदान केंद्र पर मोबाइल पकड़े जाने पर सुरक्षाकर्मी उसे जब्त कर सकेंगे,या वहा उपस्थित  बीएलओ  या मतदान कर्मी उसे बाहर ही स्विच ऑफ कर के जमा कराएंगे,जिसकी जिम्मेदारी मतदाता की भी होगी।असुविधा से बचने के लिए बेहतर है कि मतदान केंद्र पर मोबाइल लेकर न जाएं ।क्योंकि मतदान केंद्र के भीतर किसी भी तरह से फोन या कैमरे के उपयोग से  मतदान की गोपनीयता भंग होती  है ।जो स्पष्ट रूप से लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 128 का उल्लंघन है।जिसमे अधिनियम के तहत निर्धारित सजा का भी प्रावधान है। नियमों का उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज होगी। कलेक्टर ने सभी सेक्टर ऑफिसर को मतदान की रिपोर्टिंग जिला डाटा कलेक्शन टीम को समय पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री शशि मोहन सिंह, डीएफओ श्री जितेन्द्र कुमार उपाध्याय, जिला पंचायत सीईओ श्री अभिषेक कुमार, अपर कलेक्टर श्री आई एल ठाकुर, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रदीप कुमार साहू, सर्व एसडीएम सहित संबंधी विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।
पुलिस अधीक्षक श्री शशि मोहन सिंह ने कहा कि कानून व्यवस्था बनाने के लिए पुलिस विभाग की अमला सक्षम है। 16 केंद्रीय पुलिस, जिला पुलिस एवं पेट्रोलिंग टीम तैनात की जाएगी। सभी मिलकर शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न करेंगे। उन्होंने सभी को टीम भावना से सभी टीम के साथ समन्वय बनाकर कार्य करने एवं सूचना तंत्र मजबूत करने कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *