Saturday, May 18

‘अब न ओपिनयन पोल की जरूरत और न एग्जिट पोल की’, PM मोदी ने बता दिया कांग्रेस का रिजल्ट

Lok Sabha Elections 2024: पश्चिम बंगाल के बर्धमान-दुर्गापुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. पीएम मोदी ने कहा कि मोदी जिंदा है तो मैं इन्हें लूटने नहीं दूंगा. उन्होंने कहा कि अब न ओपिनयन पोल की जरूरत है और न एग्जिट पोल की. मैंने पहला ही संसद में कहा था कि इनकी सबसे बड़ी नेता चुनाव नहीं लड़ेंगीं और वो भागकर के राजस्थान से राज्यसभा जाएंगी.

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मैंने पहले ही ये भी बता दिया था कि शहजादे वायनाड में हार के डर से अपने लिए दूसरी सीट खोज रहे हैं. अब इन्हें अमेठी से भागकर रायबरेली सीट चुननी पड़ी है. ये लोग घूम-घूम कर सबको कहते हैं – डरो मत. मैं भी इन्हें यही कहूंगा – डरो मत, भागो मत. आज मैं एक और बात कहूंगा कांग्रेस इस बार पहले से भी कम सीटों पर सिमटने जा रही है. पीएम ने कहा कि देश भी समझ रहा है कि ये लोग चुनाव जीतने नहीं, देश को बांटने के लिए चुनावी मैदान का उपयोग कर रहे हैं.

धर्म के आधार पर मुसलमानों को आरक्षण न दिया जाए- PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पिछले 10 दिन से लगातार कांग्रेस को 3 चुनौतियां दे रहा हूं, लेकिन वो मौन होकर बैठ गए हैं. मेरी पहली चुनौती है – कांग्रेस और INDI गठबंधन वाले देश को लिखित में विश्वास दें कि वे धर्म के आधार पर आरक्षण में, संविधान में कोई भी परिवर्तन नहीं करेंगे. मेरी दूसरी चुनौती है कि ये लिखित में देश से वादा करें कि एससी/एसटी, ओबीसी का आरक्षण छीनकर धर्म के आधार पर किसी को नहीं बाटेंगे.

इसके साथ ही मेरी तीसरी चुनौती है – वो लिखित में दें कि जहां इनकी राज्य सरकारें हैं, वहां ओबीसी का कोटा काटकर, धर्म के आधार पर मुसलमानों को आरक्षण नहीं दिया जाएगा.

मेरे लिए तो आप ही मेरे परिवार जन- नरेंद्र मोदी

जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मोदी का एक ही सपना है, आपके सपनों को पूरा करना. मुझे ज्यादा से ज्यादा आशीर्वाद चाहिए ताकि मैं ज्यादा से ज्यादा आपकी सेवा कर सकूं. पीएम मोदी ने कहा कि आप तो जानते हैं मेरे पास है ही क्या? ना आगे कुछ है ना पीछे कुछ है. मुझे किसी के नाम कुछ करके नहीं जाना है. मेरे लिए तो आप ही मेरे परिवार जन हैं. मेरा भारत मेरा परिवार- अगर मेरा कोई वारिस है तो देश के हर परिवार के बच्चे मेरे वारिस हैं. मैं उनके लिए कुछ छोड़ कर जाना चाहूंगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *