Friday, June 14

जुगल किशोर जू मैदान के नाम से जाना जाएगा अब पन्ना का तलैया फील्ड मैदान: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

राष्ट्रीय वाॅलीबाल चैम्यिनशिप का हुआ समापन

भोपाल (IMNB). मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्य प्रदेश में खेल में नई संस्कृति का विकास होगा। पन्ना में राष्ट्रीय वॉलीबॉल चैम्पियनशिप के कारण आनंद और उत्सव का माहौल है। तलैया फील्ड मैदान,पन्ना का नाम जुगल किशोर जू मैदान किया जाएगा। इसे इनडोर स्टेडियम भी बनाया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने गुरूवार को तलैया फील्ड मैदान,पन्ना में आयोजित 25वीं राष्ट्रीय वाॅलीबाल चैंपियनशिप के समापन अवसर पर अपने वर्चुअल संबोधन के दौरान यह बात कही।

प्रतियोगिता का शुभारंभ 16 दिसम्बर को किया गया था। इस दौरान पुरूष एवं बालिका वर्ग में देश के विभिन्न राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेश की टीमों के खिलाड़ियों ने अपनी उत्कृष्ट खेल प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश की साढ़े आठ करोड़ जनता की ओर से खिलाड़ियों का स्वागत और अभिनंदन किया। साथ ही वृहदस्तरीय खेल प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए सांसद सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों, जिला एवं पुलिस प्रशासन की सराहना भी की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देश की खेल प्रतिभाओं के प्रोत्साहन फलस्वरूप खिलाड़ी निरंतर विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में अपनी उत्कृष्ट प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे हैं। आगामी दिनों में मध्य प्रदेश में नेशनल यूथ गेम का आयोजन भी किया जाएगा।

सीएम ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया और शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल जीवन का अभिन्न अंग है। सांसद और विधायक कप के माध्यम से भी खेल प्रतिभाओं ने अपना जौहर दिखाया है। उन्होंने खेल के बेहतर विकास की योजना बनाने की बात कही।

किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि पन्ना में राष्ट्रीय वाॅलीबाल चैम्पियनशिप का सफल आयोजन पन्ना सहित बुंदेलखंड और मध्य प्रदेश के लिए ऐतिहासिक दिन है। विश्व के 221 देशों में बुलेटिन के माध्यम से इस खेल का व्यापक कव्हरेज पहुंचाया जा रहा है। पन्ना की विशेष पहचान के लिए भी यह कारगर होगा। इसके अलावा चैम्पियनशिप के माध्यम से राष्ट्रीय स्तर पर चयनित खिलाड़ी निश्चित ही अपने परिवार, समाज एवं प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।

उन्होंने कहा की स्वस्थ्य रहने के लिए खेल जरूरी है। खेल के बिना जीवन में रस नहीं है। इसके माध्यम से जीवन जीने का अलग आनंद है। गांव तक खेल सुविधाओं को पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।

इस अवसर पर सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय वाॅलीबाॅल चैम्पियनशिप में खिलाड़ियों ने खेल भावना का परिचय दिया है। इस दौरान लघु भारत की झलक भी देखने को मिली है। प्रतियोगिता से जुड़े लोगों ने अथक परिश्रम कर इस आयोजन को सफल बनाया है। इसके लिए सभी बधाई के पात्र है। आगामी दिनों में वाॅलीबाॅल एकेडमी खोलने का प्रयास भी किया जाएगा। इस प्रतियोगिता के माध्यम से खेल का भाव जागृत हुआ है।

पन्ना जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामकिशोर कांवरे ने कहा कि खेल का आयोजन खिलाड़ियों के लिए हुनर और क्षमता प्रदर्शन का बेहतर माध्यम साबित हुआ है। उन्होंने खिलाड़ियों सहित प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से खेल आयोजन से जुड़े पदाधिकारियों को बधाई दी।

विजयराघवगढ़ विधायक श्री संजय पाठक ने कहा कि सांसद श्री वीडी शर्मा के प्रयास से पन्ना में खेल के आयोजन से यह विश्व के नक्शे पर आया है। आगामी फरवरी माह में जी 20 देश के प्रतिनिधिमंडल का पन्ना भ्रमण होना भी सौगात है मुख्य कोच श्रीधरन ने कहा कि छोटे शहर पन्ना में राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट के सफल आयोजन ने सभी को गौरवान्वित किया है। पुलिस व प्रशासन की टीम ने भी सभी आवश्यक सहयोग प्रदान किया। उन्होंने कहा कि उत्कृष्ट प्रदर्शन वाले खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम में खेलने का अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने भविष्य में इनडोर ग्राउण्ड में एशियन वाॅलीबाॅल चैम्पियनशिप की उम्मीद भी जताई। पुरूष वर्ग में गुजरात एवं महिला वर्ग में पश्चिम बंगाल बना चैम्पियन

25वीं राष्ट्रीय वाॅलीबाॅल चैम्पियनशिप में पुरूष वर्ग में गुजरात एवं हरियाणा तथा महिला वर्ग में पश्चिम बंगाल एवं राजस्थान टीम के बीच फाइनल मैच खेला गया। पुरूष वर्ग में गुजरात विजेता और हरियाणा की टीम उप विजेता रही। इसी प्रकार कर्नाटक की टीम तीसरे एवं उत्तर प्रदेश की टीम चैथे स्थान पर रही। महिला वर्ग में पश्चिम बंगाल विजेता और राजस्थान की टीम उप विजेता रही, जबकि गुजरात की टीम तृतीय व तमिलनाडु की टीम चतुर्थ स्थान पर रही।

अलग-अलग वर्ग में विजेता टीम को 51 हजार रूपए और प्रत्येक खिलाड़ी को 3-3 हजार रूपए का पुरस्कार, गोल्ड मैडल एवं ट्राॅफी प्रदान की गई। उप विजेता टीम को 31 हजार रूपए एवं प्रत्येक खिलाड़ी को 2-2 हजार रूपए का पुरस्कार, सिल्वर मैडल प्रदान किया गया। तृतीय स्थान की टीम को 21 हजार रूपए व चतुर्थ स्थान की टीम को 11 हजार रूपए की पुरस्कार राशि प्रदान की गई। खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, पन्ना जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मीना राजे मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *