Sunday, May 19

मतदान कराने मतदान दल मतदान केन्द्रों के लिए हुए रवाना

मतदान 26 अप्रैल को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक, जिले में 17 क्रिटिकल मतदान केन्द्र

धमतरी। लोकसभा चुनाव के लिए महासमुंद, धमतरी, कुरूद और कांकेर के विधानसभा सिहावा में मतदान के लिए बनाए गए भोपाल राव शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज से मतदान दलों को रवाना किया गया। जिले में शुक्रवार 26 अप्रैल को सुबह 7 से शाम 6 बजे तक मतदान संपन्न होगा। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नम्रता गांधी के मार्गदर्शन में मतदान दलों को मतदान कार्य के लिए प्रशिक्षण दिया गया है। निर्वाचन  शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। मतदान सामग्री वितरण कार्य का कलेक्टर नम्रता गांधी सहित सीईओ जिला पंचायत रोमा श्रीवास्तव ने जायजा लिया। जिले में 753 मतदान केन्द्र के लिए कुल 3012 पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी-1, मतदान अधिकारी-2, मतदान अधिकारी-3 के रूप में ड्यूटी लगाई गई है। इसी तरह 20 प्रतिशत अधिकारी, कर्मचारियों को रिजर्व रखा गया है। उल्लेखनीय है कि जिले में कुल 753 मतदान केन्द्रों में 17 संवेदनशील मतदान केन्द्र हैं, इनमें विधानसभा क्षेत्र सिहावा में 14, और धमतरी में 3 मतदान केन्द्र शामिल है। इसी तरह 372 सामान्य मतदान केन्द्रों को मिलाकर कुल 377 मतदान केन्द्रों में वेबकॉस्टिंग किया जायेगा। इनमें विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 56 सिहावा में 129, विधानसभा क्षेत्र 57 कुरूद में 119 और विधानसभा क्षेत्र 58 धमतरी में 129 मतदान केन्द्र शामिल हैं। जिले में कुल 6 लाख 30 हजार 802 मतदाताओं में से 3 लाख 9 हजार 840 पुरूष मतदाता, 3 लाख 20 हजार 953 महिला मतदाता और 9 तृतीय लिंग मतदाता शामिल हैं। विधानसभा क्षेत्र 56 सिहावा में कुल 1 लाख 95 हजार 301 मतदाताओं में से 95 हजार 52 पुरूष मतदाता, 1 लाख 248 महिला मतदाता और 1 तृतीय लिंग मतदाता हैं। वहीं विधानसभा क्षेत्र 57 कुरूद में कुल 2 लाख 11 हजार 605 मतदाताओं में से 1 लाख 5 हजार 669 पुरूष मतदाता, 1 लाख 5 हजार 934 महिला मतदाता, 2 तृतीय लिंग मतदाता तथा विधानसभा क्षेत्र 58 धमतरी में कुल 2 लाख 23 हजार 896 मतदाताओं में से 1 लाख 9 हजार 119 पुरूष मतदाता, 1 लाख 14 हजार 771 महिला मतदाता और 6 तृतीय लिंग मतदाता शामिल हैं।

जिले में होम वोटिंग के माध्यम से 68 वृद्धजन और दिव्यांग मतदाताओं ने घर पर मतदान किया। वहीं निर्वाचन कार्य में लगे 3 हजार 812 अधिकारी, कर्मचारियों ने डाक मतपत्र के जरिए मतदान किया। गौरतलब है कि जिले के प्रत्येक विधानसभा में 10-10 संगवारी मतदान केन्द्र (महिला प्रबंधित मतदान केन्द्र), दिव्यांग कर्मियों द्वारा प्रबंधित प्रत्येक विधानसभा में 1-1 मतदान केन्द्र और युवा तथा आदर्श मतदान केन्द्र प्रत्येक विधानसभा में 5-5 बनाये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *