Thursday, June 20

खेल मानसिक एवं शारीरिक विकास के लिए आवश्यकः राज्यपाल उइके

खेल में देश की बेटियों का अच्छा प्रदर्शन, सभी महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत
राज्यपाल सुश्री उइके ‘‘पुष्करणा प्रीमियर लीग’’ के समापन कार्यक्रम में शामिल हुई

रायपुर, 26 दिसम्बर 2022/ राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके विगत दिवस सुभाष स्टेडियम रायपुर में श्री रायपुर पुष्टिकर समाज ट्रस्ट द्वारा आयोजित क्रिकेट प्रतियोगिता ‘‘पुष्करणा प्रीमियर लीग’’ के समापन कार्यक्रम में शामिल हुईं।
राज्यपाल सुश्री उइके ने अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित इस प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए समिति के समस्त पदाधिकारियों को हार्दिक बधाई दी। राज्यपाल ने खेल में भागीदारी और खेलने के हौसले को, हार जीत से बड़ा बताते हुए खुशी व्यक्त की कि सभी खिलाड़ियों ने अपनी खेल प्रतिभा एवं टीम भावना का अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने प्रतियोगिता में शामिल सभी 6 टीमों का छत्तीसगढ़ में हार्दिक अभिवादन करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। साथ ही उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस तरह के आयोजन रायपुर में होते रहेंगे और आगे भी इसी उत्साह के साथ खिलाड़ी छत्तीसगढ़ में खेलने आते रहेंगे।

राज्यपाल ने कहा कि खेल जीवन में अनुशासन सिखाता है, आपसी सहभागिता बढ़ाने का काम करता है, एकाग्रता लाता है। खेल से मानसिक व शारीरिक विकास को बढ़ावा मिलता है और नेतृत्व करने की क्षमता भी विकसित होती है। प्रतिस्पर्धाओं में जीत को ही अंतिम लक्ष्य मानकर नहीं खेलना चाहिए बल्कि खिलाड़ियों को अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के संकल्प के साथ खेल में शामिल होना चाहिए। खिलाड़ियों को स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना से खेलना चाहिए।
राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में खेल के प्रति बढ़ती रूचि एवं लगातार प्रतिस्पर्धा के आयोजन से अच्छे खिलाड़ी निकलकर आ रहे हैं। खिलाड़ियों की खेल प्रतिभा को संवारने में ऐसी प्रतिस्पर्धाएं मील का पत्थर साबित हो रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रतिभावान खिलाड़ियों का बेहतर प्रदर्शन उन्हें गौरवान्वित करता है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने खेल को शासन की प्राथमिकताओं में शामिल किया है। खेल के लिए अधोसंरचना के विकास के साथ-साथ खिलाड़ियों को सभी उत्कृष्ट सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। खेलो इंडिया की पहल से पिछले कुछ वर्षों में भारतीय युवाओं को अपनी खेल प्रतिभा दिखाने के लिए एक नया मंच मिला है। खेल और खिलाड़ियों के हित में लिए गए निर्णयों के कारण ही पिछले कुछ वर्षों में भारत के अनेकों खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतिष्ठित प्रतिस्पर्धाओं में सफलता हासिल की है।
राज्यपाल ने कहा कि युवाओं की ऊर्जा देश की सबसे बड़ी शक्ति है। युवाओं से कहा कि आप सभी जिस भी क्षेत्र में कार्य करें, अपनी ऊर्जा का सदुपयोग राष्ट्र निर्माण में करें। देश के खिलाड़ियों से उन्होंने कहा कि खिलाड़ी का बेहतर प्रदर्शन और उनकी जीत देश का गौरव बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि भारत के युवाओं में क्षमता का अभाव नहीं है बस हमें अधिक से अधिक अवसर सृजित कर युवाओं को साथ जोड़ने की आवश्यकता है। राज्यपाल ने देश की बेटियों का पदक या कोई अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में जीत गर्व का विषय है। यह अन्य महिलाओं को प्रेरित करता है। इसलिए उन्होंने खेल के क्षेत्र में बेटियों को पर्याप्त अवसर उपलब्ध करवाने की आवश्यकता बताई। राज्यपाल ने कहा कि इस प्रतियोगिता के आयोजन से समाज के युवा लाभान्वित होंगे एवं उनमें छिपी हुई प्रतिभा को मंच मिलेगा।
आयोजन समिति ने राज्यपाल सुश्री उइके को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री छत्तीसगढ़ शासन श्री बृजमोहन अग्रवाल ने भी दर्शकों को संबोधित किया एवं खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। इस अवसर पर श्री रायपुर पुष्टिकर समाज ट्रस्ट के पदाधिकारी और सदस्य एवं दर्शकगण भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *