Friday, June 14

राजनैतिक लाभ लेने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गलत बयानी कर छत्तीसगढ़ की अपमान किया -कांग्रेस

अमित शाह के विभाग द्वारा जारी आंकड़े बताते है छत्तीसगढ़ में नक्सल, बलात्कार के मामले घटे है*

*मोदी सरकार के वायदा खिलाफी पर अमित शाह की बोलती बंद क्यों?*

*छत्तीसगढ़ में 15 साल के भ्रष्टाचारी कुशासन वाले भाजपा राज की वापसी असंभव*

रायपुर/07 जनवरी 2023। केंद्रीय मंत्री अमित शाह कोरबा में दिये गये भाषण में गलत बयानी कर छत्तीसगढ़ की माताओं बहनों का अपमान किया है। अमित शाह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बलात्कार के मामले बढ़े है जबकि खुद उनके विभाग से जारी एनसीआरबी के आंकड़े बताते है छत्तीसगढ़ में बलात्कार के मामलों में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद आधा हो गये है। खुद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री इस बात को राज्य सरकार मानते है कि छत्तीसगढ़ नक्सल घटनाओं में 80 प्रतिशत की कमी आई है उसके बाद स्वयं केंद्रीय गृहमंत्री जैसे महत्वपूर्ण पद पर बैठा झूठ कैसे बोल सकता है? (एनसीआरबी के 2018, 19, 20, 21 बलात्कार, नक्सल की रिपोर्ट चार्ट संलग्न)

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि अमित शाह कहते है चावल वाले बाबा के कारण छत्तीसगढ़ में चावल मिलना शुरू हुआ लेकिन चाउर वाले बाबा ने गरीबों के चावल में डाका डालकर 36000 करोड़ का नान घोटाला कर दिया था। अमित शाह को अध्ययन करना चाहिये छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद अमीर-गरीब सभी को सस्ता चावल मिलता है। छत्तीसगढ़ में 65 लाख लोगों के राशन कार्ड बने है। छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा के भ्रष्टाचार कुशासन के 15 साल भूली नहीं है और लोग मोदी की 9 साल की वायदा खिलाफी को भी नहीं भूले है। जनता क्यों और कैसी फिर से मोदी और भाजपा को वोट दें?

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि मोदी सरकार के चुनावी वायदों पर अमित शाह क्यों चुप रहे? मोदी सरकार को 9 साल पूरे होने को है जनता अभी तक अच्छे दिन के सपने देखते-देखते थक गयी। 2014 लोकसभा चुनाव में मोदी ने प्रदेश में आकर जनता से वादा किया था कि केंद्र में उनकी सरकार बनेगी तो सभी के खाते में 15 -15 लाख रुपए आएंगे। बीते 8 साल से प्रदेश की जनता 15 लाख रुपए खाते में आने का इंतजार कर रही है। किस तारीख को पैसा जनता के खाते में ट्रांसफर होगा? दो करोड़ रोजगार प्रतिवर्ष देने का वादा था 8 साल में प्रदेश के 43 लाख युवाओं को रोजगार मिलना था जो अब तक केंद्र सरकार ने नहीं दिया है। वह रोजगार प्रदेश के युवाओं को कब मिलेगा तारीख बताने की कृपा करें? 100 दिन में महंगाई कम करने का वादा किया गया था आज हालात यह है कि मोदी सरकार के गलत नीतियों के चलते बढ़ती महंगाई से जनता हताश और परेशान हैं। महंगाई से जनता को राहत किस तारीख को मिलेगी यह बता दें? 2022 भी निकल चुका है लेकिन किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई है?

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि अमित शाह बताएं जनता मोदी पर क्यों भरोसा करें? पेट्रोल-डीजल पर मनमाना एक्साइज ड्यूटी लिया जा रहा है रसोई गैस के दाम जो कांग्रेस शासनकाल में 410रु था आज 1200रु के करीब जनता खरीदने मजबूर है 16 करोड़ हाथों को रोजगार मिलना दूर की बात 23 करोड़ हाथों से रोजगार छीना गया है जिसमे 1 करोड़ 45 लाख मातृ शक्ति है। 27 करोड़ लोग मोदी सरकार के गलत आर्थिक नितियों के चलते मध्यम वर्ग से गरीबी रेखा से नीचे आ गये। भुखमरी इंडेक्स में 55 वे से खिसकर 116 देशों में 105 वें नंबर पर आ गये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *