Monday, June 17

देवर ने पैर पकड़े, पति ने घोंटा गला:लाश बोरे में भरकर 50 km दूर फेंकी, सास से कहा- आपकी बेटी कहीं चली गई

अमरोहा के रुखसार मर्डर केस में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। रुखसार को मारने में पति के साथ उसका देवर भी शामिल था। पुलिस पूछताछ में रुखसार के पति अनवर ने पूरी वारदात कबूल कर ली है। उसने पुलिस को बताया कि उसके छोटे भाई दानिश ने रुखसार के पैर पकड़े, जबकि उसने रस्सी से पत्नी का गला घोटा था। हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने में भी दोनों शामिल थे।

वारदात से पहले बेकरी संचालक अनवर ने पत्नी के साथ संबंध बनाए थे। अनवर ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि उसने जब दोबारा पत्नी के साथ संबंध बनाने की कोशिश की तो वो चिक-चिक करने लगी। इसी से खफा होकर उसने बीवी को मार डाला। ये भी बताया कि रुखसार ने अपने भाई मोहसिन के साथ मिलकर कई बार उसकी बेइज्जती की थी। वारदात के बाद अनवर ने रुखसार के शव को बोरे में पैक करके घर से 50 किमी दूर मुरादाबाद के रतूपुरा गांव के जंगल में ठिकाने लगाया। इसके बाद सास से जाकर बोला कि आपकी बेटी बिना बताए घर से गायब हो गई है।

इस विजुअल में आप देख सकते हैं कि कैसे रुखसार की हत्या कर डेड बॉडी को बोरे में पैक किया गया है।

दामाद की सूचना पर मां ने दर्ज कराई थी बेटी की गुमशुदगी
रुखसार (30 साल) अमरोहा के मोहल्ला मोहम्मदी सराय की रहने वाली थी। करीब 9 साल पहले उसकी शादी अमरोहा के मोहल्ला नल सराय कोहना नई बस्ती निवासी बेकरी संचालक अनवर के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही अनवर और रुखसार के बीच अनबन रहती थी। हालांकि, दंपती के तीन बच्चे भी हुए। लेकिन दोनों में कभी भी रिश्ते अच्छे नहीं रहे। रुखसार की मां जहरा खातून काे दामाद अनवर ने सोमवार सुबह करीब 10 बजे सूचना दी कि, आपकी बेटी बिना बताए घर से गायब है। इस पर जहरा खातून ने तुरंत अमरोहा कोतवाली पहुंचकर पुलिस काे इसके बारे में बताया। शुरू में तो पुलिस को भी यही लगा कि पारिवारिक कलह की वजह से रुखसार शायद कहीं चली गई है। हालांकि पुलिस ने अगले दिन यानी मंगलवार को रुखसार की गुमशुदगी दर्ज करके उसकी तलाश शुरू कर दी थी।

पुलिस की गिरफ्त में ये तस्वीर अनवर और उसके भाई दानिश की है।

पहले हाथ-पैर बांधे फिर बोरे में डालकर सूजे से सिल दिया
पुलिस पूछताछ में अनवर ने कबूल किया है कि सोमवार तड़के करीब पौने चार बजे घर के निचले हिस्से में बनी बेकरी में उसने अपनी पत्नी रुखसार की गला घोंटकर हत्या की। इसके बाद अपने भाई दानिश की मदद से उसने रुखसार के हाथ-पैर ढंग से बांधे। उस वक्त रुखसार के शरीर पर एक पयजामे के सिवाए कोई कपड़ा नहीं था। रुखसार के हाथ-पैर अच्छे से बांधने के बाद अनवर ने उसे पहले पॉलीथिन में पैक किया। इसके बाद एक बोरे में डालकर उसे सूजे से सिला। फिर बोरे को दूसरी सफेद बोरी में डाला और फिर उसे भी सूजे से सिल दिया।

ये तस्वीर मृतका रुखसार की है। नौ साल पहले इनकी शादी अनवर के साथ हुई थी।

सास काे फोन करने के पहले ठिकाने लगा दी थी लाश
लाश को पूरी तरह पैक करने के बाद अनवर अपने भाई दानिश के साथ बाइक से शव लेकर निकला। अपने घर से करीब 50 किमी दूर पहुंचने के बाद उसने शव वाले बोरे को मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा थाना क्षेत्र में रतूपुरा गांव के जंगल में मंदिर के पास सड़क किनारे झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस पूछताछ में अनवर ने बताया है कि सोमवार को सुबह करीब 7 बजे तक उसने शव को ठिकाने लगा दिया था। इसके बाद वो अमरोहा में अपने घर लौटा और फिर थोड़ी देर बाद सास को फोन करके कहा कि रुखसार घर पर बताए बिना कहीं चली गई है।

अनवर ने सोचा था कि इतनी जल्दी नहीं मिलेगी लाश
अनवर ने सोचा था कि लाश को उसने इतनी दूर फेंका है कि वो एकदम पुलिस की नजर में नहीं आएगी। उसे पूरा यकीन था कि बोर में पैक शव जब तक मिलेगा उसका चेहरा बिगड़ जाएगा और फिर उसकी पहचान होना आसान नहीं होगा। उधर, अपनी सास को वो रुखसार के बिन बताए घर से जाने की कहानी सुना चुका था। अनवर को अंदाजा नहीं था कि तीन दिन के भीतर ही उसका गेम ओवर हो जाएगा।

अनवर ने कबूल किया कि उसकी शादी को 9 साल हो गए, शुरू से ही दोनों में अनबन रहती थी।

पुलिस ने अनवर और दानिश को जेल भेजा
अमरोहा कोतवाली पुलिस ने रुखसार की हत्या में उसके पति अनवर और देवर दानिश को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल सामान और लाश फेंकने में इस्तेमाल हुई बाइक भी बरामद कर ली है। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। इससे पहले अमरोहा कोतवाली पुलिस ने रुखसार के भाई मोहसिन की ओर से अनवर और उसके भाई दानिश के खिलाफ IPC की धारा 302 और 201 के तहत मामला दर्ज किया।

पुलिस पूछताछ में अनवर बोला- रुखसार ने अपने भाई मोहसिन के साथ मिलकर मेरी बेइज्जती मेरे भाई दानिश के सामने की थी। तभी से मैं उसकी हत्या की योजना बना रहा था। इस प्लानिंग में मैंने छोटे भाई दानिश को भी शामिल कर लिया था। पहचान छिपाने के मकसद से अनवर ने बीवी रुखसार के सिर के बाल भी काट दिए थे।

हत्यारोपी पति अनवर ने पुलिस की पूछताछ में कबूल किया कि पत्नी से हर दिन झगड़ा होता था। इसलिए मैंने उसे मार डाला।

मुरादाबाद के गांव में मंदिर के पास मिला था शव
मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा कोतवाली क्षेत्र में रतूपुरा गांव में सोमवार दोपहर करीब 12 बजे सड़क किनारे पड़े एक बोरे पर ग्रामीणों की नजर पड़ी। बोरे को खोला गया तो उसमें एक युवती का अर्द्धनग्न शव मिला। पुलिस ने उसका पोस्टमॉर्टम कराया तो गला घोंटकर हत्या करने की बात सामने आई। रेप की आशंका में युवती की स्लाइड भी तैयार कराई गई।

सीओ ठाकुरद्वारा अर्पित कपूर के मुताबिक, बोरे में मिली युवती की डेड बॉडी की शिनाख्त के लिए आसपास के जिलों को फोटो भेजी गई थी।
सीओ ठाकुरद्वारा अर्पित कपूर के मुताबिक, बोरे में मिली युवती की डेड बॉडी की शिनाख्त के लिए आसपास के जिलों को फोटो भेजी गई थी।

ऐसी हुई थी बोरे में मिले शव की शिनाख्त
सीओ ठाकुरद्वारा अर्पित कपूर ने बताया कि सोमवार को युवती का शव मिलने के बाद उसकी शिनाख्त के लिए जिले के सभी थानों में शव की फोटो भेजी गई। आसपास के जिलों को भी अज्ञात युवती का शव मिलने की सूचना दी गई। पुलिस आसपास के जिलों से ऐसी युवतियों का ब्योरा भी कलेक्ट कर रही थी, जिनकी हाल ही में गुमशुदगी दर्ज हुई हो। इसी क्रम में अमरोहा कोतवाली में रुखसार की गुमशुदगी दर्ज होने की बात सामने आई। तस्वीरों का मिलान कराया गया तो बोरे में बंद मिला शव अमरोहा में सराय कोहना नई बस्ती की रहने वाली रुखसार (30) का निकला।

अनवर और उसके भाई दानिश को पुलिस ने जेल भेज दिया है।
अनवर और उसके भाई दानिश को पुलिस ने जेल भेज दिया है।

ऐसे हुआ हत्या का खुलासा
मुरादाबाद में मिले शव की शिनाख्त अमरोहा की रुखसार के रूप में हुई तो अमरोहा कोतवाली पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने सबसे पहले परिवार से ही छानबीन शुरू की। शुरुआती छानबीन में ही पुलिस को पता लग गया कि रुखसार और उसके पति अनवर के बीच रिश्ते अच्छे नहीं थे। दोनों में अक्सर अनबन रहती थी। इसी आधार पर पुलिस ने अनवर से सवाल-जवाब शुरू किए तो वह कुछ देर में ही टूट गया। उसने कबूल कर लिया कि रुखसार की हत्या उसी ने की है।

ये तस्वीर ठाकुरद्वारा के गांव रतूपुरा की सोमवार दोपहर की है। जब अज्ञात युवती का शव झाड़ियों में मिला था। इसी शव की शिनाख्त बुधवार को रुखसार के रूप में हुई थी।
ये तस्वीर ठाकुरद्वारा के गांव रतूपुरा की सोमवार दोपहर की है। जब अज्ञात युवती का शव झाड़ियों में मिला था। इसी शव की शिनाख्त बुधवार को रुखसार के रूप में हुई थी।

पता चला है कि अनवर अमरोहा में बेकरी चलाता है। उसने बेकरी में ही सोमवार तड़के अपनी पत्नी का रस्सी से गला घोंटकर मर्डर किया। इसके बाद शव को बोरे में भरा। बोरे को बाइक पर रखकर ठाकुरद्वारा के रतूपुरा गांव के पास सड़क किनारे फेंक गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *