Friday, June 21

नशे को हतोत्साहित करने के लिए नई शराब नीति में होंगे प्रावधान: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भगवान राम की वन लीलाओं पर चित्रकूट और बाल लीलाओं पर ओरछा में कॉरीडोर विकसित होंगे
बच्चों को पढ़ाया जाएगा गीता और रामायण का सार
हमारी संस्कृति को भव्य स्वरूप प्रदान करने के लिए प्रदेश में संचालित हैं विभिन्न गतिविधियाँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्राप्त किया स्वामी रामभद्राचार्य जी महाराज का आशीर्वाद
मुख्यमंत्री श्री चौहान श्रीराम कथा में हुए शामिल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वामी रामभद्राचार्य जी ने युवाओं को शुद्ध करने का संदेश दिया है। प्रदेश में यह अभियान प्रभावशीलता के साथ जारी है। माता, बहन और बेटियों के साथ गलत व्यवहार करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही जारी है। हमारी संस्कृति को भव्य स्वरूप प्रदान करने के उद्देश्य से ही श्रीमहाकाल महालोक कॉरीडोर विकसित किया गया है। इसी क्रम में ओंकारेश्वर में आदि शंकराचार्य जी की भव्य प्रतिमा स्थापित करने का कार्य जारी है। चित्रकूट में भगवान श्रीराम ग्यारह साल ग्यारह महीने ग्यारह दिन रहे। अत: भगवान श्रीराम की वन लीलाओं के सजीव चित्रण पर कॉरीडोर विकसित किया जाएगा। ओरछा में भगवान श्रीराम की बाल लीलाओं का प्रदर्शन भी किया जाएगा। इससे आने वाली पीढ़ी को हमारी संस्कृति और मान्यताओं के संबंध में जानकारी प्राप्त होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना के बाद अब लाड़ली बहन योजना आरंभ की जा रही है। इसमें गरीब बहनें सशक्त होंगी। राज्य सरकार नई शराब नीति से नशे को हतोत्साहित करने की दिशा में कार्य करेगी। हम माँ, बहन और बेटी के सम्मान की सुरक्षा और उन्हें सशक्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। राज्य सरकार द्वारा समाज सुधार की सभी गतिविधियों में हर संभव सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *