Monday, May 20

परीक्षा परिणाम से छात्रों में तनाव एवं डिप्रेशन दूर करने दिया प्रशिक्षण

प्राचार्यों को दिया गया प्रशिक्षण

विद्यार्थी किसी भी स्थिति में तनाव न लें – कलेक्टर

महासमुंद । माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर द्वारा कक्षा 10वीं एवं 12वीं के परीक्षा परिणाम प्रतिवर्ष घोषित किए जाते हैं विद्यार्थियों के अपेक्षित परिणाम नहीं आने से विद्यार्थी प्रायः तनाव में रहते हैं तथा कुछ विद्यार्थी तो डिप्रेशन में चले जाते हैं, जिला प्रशासन द्वारा इस विषय को गंभीरता से लेते हुए जिले के हाई और हायर सेकेण्डरी स्कूल के सभी प्राचार्यों का प्रशिक्षण आयोजित की गई।

प्रशिक्षण में कलेक्टर श्री प्रभात मलिक ने उदबोधन में कहा कि बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित होने वाले है। परीक्षा परिणाम घोषित होने के पहले या बाद में विद्यार्थियों को निराश होने या तनाव लेने की आवश्यकता नहीं है। पालकों को भी बच्चों से बहुत अधिक एक्सपेक्टेशन नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी बच्चे में यह प्रवृत्ति पायी जाती है या इस संदर्भ में कोई भी सूचना मिलती है तो स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर “104/14416 आरोग्य सेवा निःशुल्क परामर्श” पर सूचित किया जा सकता है । यह टोल फ्री नंबर 24×7 संचालित रहेगा। इसके अलावा जिले के 07723299858 पर भी संपर्क किया जा सकता है। सूचना प्राप्त होने पर विद्यार्थियों के हित में तत्काल समाधान उपलब्ध कराया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि कई बच्चे अपेक्षा अनुसार परिणाम नहीं ला पाते इस स्थिति में तनाव नहीं लेना चाहिए। कम नंबर लाने का मतलब यह नहीं है कि नॉलेज कम है, कई व्यक्तित्व ऐसे हैं जो अपने बचपन में अच्छे नंबर नहीं ला पाए पर आगे जाकर उन्होंने बहुत ख्याति प्राप्त की।

श्री मलिक ने शिक्षा विभाग के सभी शिक्षकों व अधिकारियों को विद्यार्थियों के मानसिक स्वास्थ्य के संबध में सतत काउंसलिंग करने के आवश्यक निर्देश दिए। ब्लाक स्तर पर भी इसी तरह का ट्रेनिंग आयोजित किए जाएंगे।

अपर कलेक्टर श्री रवि साहू ने अपने अनुभव और नवजीवन के बारे में विस्तार से बताते हुए पालक व जन सहयोग आधारित कार्यक्रम, स्वयंसेवी की मदद लेने की प्रक्रिया और क्रियान्वयन के बारे में प्रशिक्षणार्थियों को मार्गदर्शन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *