Sunday, March 3

UP: मेरठ में पटाखा फैक्टरी में बड़ा धमाका, धमाके से पूरा इलाका दहल गया, चार की मौत कई घायल

Explosion In Meerut: मेरठ में मंगलवार सुबह एक मकान में चल रही फैक्टरी में जबरदस्त विस्फोट हो गया। धमाके से पूरा इलाका दहल गया। हादसे में चार लोगों की मौत बताई जा रही है, जबकि दो बच्चों सहित दस से ज्यादा घायल हो गए हैं।

Explosion in Fireworks Factory running in a house Meerut, four died many injured

मेरठ के लोहिया नगर स्थित एक मकान में मंगलवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। यहां एक मकान में संचालित फैक्टरी में हुए जोरदार विस्फोट से पूरा इलाका दहल गया। धमाका इतना तेज था कि जिस मकान में फैक्टरी चल रही थी उसके साथ ही आस पास के दो-तीन मकान और धराशायी हो गए। हादसे में चार लोगों की मौत हो गई है वहीं दस से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। उन्हें मेडिकल में भर्ती कराया गया है। वहीं डीएम व मजिस्ट्रेट समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। डीएम दीपक मीणा के अनुसार पटाखा फैक्टरी जैसी बात सामने नहीं आई है मौके से काफी मात्रा में साबुन बिखरा मिला है।

बताया कि मकान में कई लोगों के दबे होने की आशंका है। धमाका इतना जबरदस्त था कि 33 केवी की लाइन के खंभे भी टूट गए। सड़क पर जा रहे कई लोग घायल हो गए। करीब 3 से 4 किमी तक आस पास के मकान धमाके से हिल गए। जो मकान धराशायी हुआ है वह किसी संजय गुप्ता का बताया जा रहा है जो गौरव त्यागी नाम के व्यक्ति ने किराए पर ले रखा था। पुलिस मौके पहुंचकर छानबीन कर रही है।

Explosion in Fireworks Factory running in a house Meerut, four died many injured
जिस मकान में फैक्टरी संचालित थी सत्यकाम स्कूल के पास ही है। विस्फोट स्कूल के समय से पहले हुआ अन्यथा बड़ा नुकसान हो सकता था। विस्फोट से तीन मकान गिरने के साथ दूरदराज तक के मकान भी हिल गए।

सत्यकाम स्कूल के अलावा आसपास के सभी मकानों के शीशे टूट गए। मौके पर अफरातफरी मची है। गंभीर रूप से झुलसे कई घायलों को अस्पताल भेजा गया है।

Explosion in Fireworks Factory running in a house Meerut, four died many injured
वहीं हादसे की सूचना पर डीएम दीपक मीणा व सिटी मजिस्ट्रेट समेत सभी अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। वहीं मौके पर भारी संख्या में भीड़ मौजूद है। राहत बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ को भी मौक पर बुलाया गया है। बताया गया कि पुलिस की टीम राहत बचाव कार्य में लगी थी कि इस दौरान भी एक के बाद एक दो धमाके हुए जिसमें जेसीबी चालक घायल हो गया। टीम मौके पर बचाव कार्य में जुटी है।

डीएम दीपक मीणा का कहना है कि मृतकों की अभी पहचान नहीं हो सकी है। ये सभी फैक्टरी में काम करने वाले मजदूर हो सकते हैं। पहचान कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। बताया गया कि रिहायशी इलाके में यह फैक्टरी पिछले छह वर्ष से चल रही थी। वहीं रेस्क्यू के दौरान इमारत का बाकी हिस्सा भी भरभराकर गिर गया, जिसमें एक जेसीबी चालक घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *