Sunday, April 21

मिलेट्स की कुकीज बनाकर महिलांए स्वावलंबन की राह पर, रीपा से जुडकर बहुत खुशी हो रही है : प्रिया जांगडे

प्राप्त आय का उपयोग घरेलु जरूरतों को पूरा करने मे होता है
 
बचत पैसे का घर बनाने में सहयोग किया : गीता तिवारी

रायपुर 31 मई 2023/  सेरीखेड़ी में संचालित कल्पतरु मल्टी यूटिलिटी सेंटर में अनेक प्रकार की आजीविका मूलक गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है। जिसमें स्व-सहायता समूह की महिलाएं विभिन्न गतिविधियों से संलग्न होकर एक निश्चित आय अर्जित कर स्वालंबन की राह पर तेजी से अग्रसर हो रही है। बेकरी उत्पाद यूनिट में कार्यरत स्व सहायता समूह की दीदियों ने बताया कि वे लगभग 3 वर्ष से बेकरी उत्पादन कार्य में संलग्न है। यहां मिलेट्स की कुकीज बनाए जाते हैं। रागी, कोदो, कुटकी, बाजरा, मशरूम पाउडर, मुनगा पाउडर, ओट्स, मैदा, चोको चिप्स, केसर पिस्ता आदि से बने कुकीज का बाजार में लगातार मांग बढ़ते जा रहा है।

जय मां वैष्णो देवी समूह से जुड़ी प्रिया जांगड़े ने बताया कि पहले उनके पास कोई काम नहीं था वह एक गृहणी ही थी। यहां बिहान से जुड़ने पर उन्हें काम मिला है तथा प्रतिमाह एक निश्चित रूप से आय अर्जित भी हो रहा है। उन्होंने बताया कि रीपा से जुड़कर वह बहुत खुश है। कल्पतरू मल्टीयूटीलिटी सेंटर में अनेक दीदियां काम करती हैं तथा विभिन्न आजीविका मूलक गतिविधियों से संलग्न है। उन्हें स्वयं को ट्री गार्ड, एलईडी बल्ब बनाने एवं रिपेरिंग करने, सेनेटाईजर बनाने तथा बेकरी के विभिन्न उत्पाद बनाने के कार्य बखूबी आते हैं। बिहान से जुड़ने के बाद उनके हुनर का विकास हुआ है।

समूह की अन्य दीदियों ने बताया कि मार्केटिंग में उन्हें कभी दिक्कत नहीं आई हैं। सी-मार्ट, छत्तीसगढ़ संजीवनी, स्थानीय हाट बाजार तथा मेलांे में यहां के उत्पादित सामग्री की अच्छी बिक्री होती है। छत्तीसगढ़ शासन के वन विभाग से बड़ा ऑर्डर भी मिलता है। समूह की सभी दीदियों लगभग 6 हजार की आमदनी प्रतिमाह कर रही हैं। प्रिया जांगड़े ने बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल भी सेंटर आए थे। उन्होंने कुकीज़ का टेस्ट भी किया तथा अच्छे स्वाद के लिए सराहना भी की।

समूह की सदस्य गीता तिवारी ने बताया कि पहले उनके पास कोई काम नहीं था। काम के लिए बाहर जाना पड़ता था। यहां सेंटर में आने से बहुत सी दीदियों से मिलने का मौका मिला। उन्होंने बताया कि प्राप्त आमदनी से उन्होंने घर बनाने में परिवार वालों की मदद की है तथा उसके  अच्छे घर का सपना भी साकार हुआ है।
उल्लेखनीय है कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रदेश की पूर्व राज्यपाल सुश्री अनुसुइया उइके ने अच्छे कार्य के लिए सम्मानित भी किया है।

समूह की दीदियों ने राज्य सरकार के प्रति अपना आभार जताया और कहा कि भूपेश सरकार ने इतने अच्छे सेंटर खोल कर दिए हैं। हमें छांव में काम करने का मौका मिल रहा है। पहले बाहर जाने से हमें धूप में काम करना पड़ता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *