Friday, June 21

पहलवानों का धरना प्रदर्शन खत्म, बृजभूषण सिंह को WFI के कार्यों से अलग रखने का हुआ फैसला

दिल्ली स्थित जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे पहलवानों ने शुक्रवार देर रात अपना धरना समाप्त कर दिया. खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से दूसरे दौर की बातचीत के बाद खिलाड़ियों ने अपना धरना प्रदर्शन समाप्त करने का फैसला किया.वहीं, खिलाड़ियों से मुलाकात के बाद खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) अध्यक्ष और यूपी के कैसरगंज से बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह को अध्यक्ष पद की जिम्मेदारियों से अलग करने का फैसला लिया है.

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने खिलाड़ियों से मुलाकात के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘‘ एक निगरानी समिति बनाने का फैसला किया गया है जिसके सदस्यों के नामों की घोषणा कल की जाएगी. समिति चार हफ्ते में जांच पूरी करेगी. वह डब्ल्यूएफआई और इसके अध्यक्ष के खिलाफ वित्तीय या यौन उत्पीड़न के सभी आरोपों की गंभीरता से जांच करेगी.’’

उन्होंने बताया, ‘‘ जांच पूरी होने तक वह (बृजभूषण शरण सिंह) अलग रहेंगे और जांच में सहयोग करेंगे जबकि डब्ल्यूएफआई के रोजमर्रा के काम को निगरानी समिति देखेगी.’’
वहीं, पहलवान बजरंग पूनिया ने बताया कि सभी खिलाड़ियों को केंद्रीय मंत्री (अनुराग ठाकुर) ने आश्वासन दिया है. सभी को समझाया भी है…हम खिलाड़ी अपने आंदोलन को बंद कर रहे हैं क्योंकि हमें सरकार ने आश्वासन दिया है. हमें विश्वास है कि हमें न्याय मिलेगा.
बता दें कि बुधवार से दिल्ली स्थित जंतर-मंतर पर पहलवान धरने पर बैठे रहे, शुक्रवार देर रात सरकार से शिकायतों का समाधान का आश्वसान मिलने के बाद उन्होंने अपना धरना समाप्त किया.

ओलंपिक पदक विजेता बजरंग पुनिया और साक्षी मलिक, विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता विनेश फोगाट सहित प्रतिष्ठित भारतीय पहलवान पिछले 3 दिनों से जंतर-मंतर पर डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाते हुए धरने पर बैठे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *