Tuesday, April 16

कृषि और आजीविका मूलक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने अधिक से अधिक ऋण प्रदान करें बैंकर्स –  कलेक्टर महोबे 

बैकों में समन्वय बनाकर लंबित प्रकरणों का निराकरण करने कहा
कलेक्टर ने जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति और जिला स्तरीय समीक्षा समिति की ली बैठक
कवर्धा 26 नवंबर 2022। कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे की अध्यक्षता में जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति एवं जिला स्तरीय समीक्षा समिति की तिमाही बैठक कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित हुई। कलेक्टर श्री महोबे ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम सहित अन्य योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की और लक्ष्य के अनुरूप कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री महोबे ने कहा कि कवर्धा जिला कृषि प्रधान जिला है। यहां किसानों को कृषि के लिए अधिक से अधिक ऋण उपलब्ध कराना चाहिए। धान के अलावा कोदो, कुटकी, गन्ना जैसे अनेक फसल का उत्पादन किसानों द्वारा किया जाता है। शासन द्वारा इन फसलों का समर्थन मूल्य में खरीदी की जाती है। किसानों द्वारा लिए गए ऋण का भुगतान भी किया जाता है। किसानों को ऋण उपलब्ध कराने के लिए बैंकों को आगे आकर कार्य करना चाहिए। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री संदीप अग्रवाल लीड बैंक मैनेजर श्री जयंत लपादार, आरबीआई से श्री पी गोपीनाथ, नाबार्ड श्री मनोज कुमार नायक सहित सभी बैंकों और जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे
          कलेक्टर श्री महोबे ने कहा कि शासन की अनेक महत्वकांक्षी योजना संचालित है। जिसमें हितग्राहियों को सब्सिडी प्रदान की जाती है। किसी भी हितग्राहियों द्वारा व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए बैंकों से ऋण की आवश्यकता होती है। बैंकों को शासन की योजना के लिए समन्वय के साथ कार्य करनी चाहिए। जिससे आसानी से ऋण प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि जिले में स्वसहायता समूह की महिलाएं अच्छा कार्य कर रही हैं। उन्हें प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। उन्होंने सभी बैंकर्स से कहा कि आजीविका मूलक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें अधिक से अधिक ऋण प्रदान करें। समूह की महिलाएं समय पर ऋण की किश्त भी चुका रही हैं। समूह द्वारा लिए गए ऋण का एनपीए बहुत कम है। इसे ध्यान में रखते हुए समूह के कार्यों के लिए सहयोग करें। समूह के माध्यम से महिलाओं को अधिक रोजगार मिलता है।
            कलेक्टर श्री महोबे ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि इस योजना में जितने लोगों का पंजीयन किया गया है, उनमें अधिक से अधिक लोगों का क्लेम होना चाहिए। योजना का लाभ हितग्राहियों तक पहुंचाने का कार्य किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के अंतर्गत गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए लागू की गई है। लोगों को इसके बारे में जानकारी होना चाहिए। इसके लिए वर्क शॉप करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसमें किशोर, तरूण और शिशु वर्गों को लक्ष्य के अनुरूप अधिक ऋण प्रदान किया जाए।
           कलेक्टर श्री महोबे ने कहा कि बैंकिंग का प्रमुख कार्य सुदूर क्षेत्रों में सेवाएं उपलब्ध कराना है। उन्होंने कहा की हितग्राहियों द्वारा कोई भी लोन लिया जाता है उसके बारे में पूरी जानकारी देना चाहिए। लोन के नियम और उसके भुगतान के बारे में दिए गए निर्देशों से अवगत कराएं। जिससे बाद में कोई समस्या उत्पन्न न हो। उन्होंने सभी बैकर्स को शासन की योजनाओं का लाभ निर्धारित समय पर हितग्राहियों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से कहा कि बैकों में स्वयं समन्वय बनाकर लंबित प्रकरणों का निराकरण कराये। उन्होंने जिले में आरसेटी के तहत अधिक से अधिक प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *