Monday, June 17

भाजपा का राजनैतिक प्रस्ताव झूठ का पुलिंदा और मोदी की चाटुकारिता का दस्तावेज-कांग्रेस

रायपुर/20 जनवरी 2023। भारतीय जनता पार्टी की अंबिकापुर कार्यसमिति के प्रस्ताव को कांग्रेस ने झूठ का पुलिंदा और मोदी की चाटुकारिता का दस्तावेज बताया है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा की कार्यसमिति के प्रस्ताव में छत्तीसगढ़ भाजपा के मुद्दो का दिवालियपन साफ दिख रहा है। देश की सबसे निकम्मी और अकर्मण्य मोदी सरकार के लिये धन्यवाद का प्रस्ताव पारित कर भाजपा कार्यसमिति ने चाटुकारिता की सारी हदों को पार कर दिया। मोदी सरकार ने देश की जनता से विश्वासघात के सिवाय कुछ नहीं किया। जिस मोदी सरकार के राज में बेरोजगारी और महंगाई 50 साल में सबसे ऊंचे पायदान में है, जिस मोदी सरकार के राज में किसानों को उनकी उपज की पूरी कीमत नहीं मिल रही, किसानों की आय 2022 तक दुगुनी करने का वायदा मोदी ने नहीं निभाया, हर के खाते में 15 लाख आना जुमला साबित हो गया, डीजल, पेट्रोल के दाम 100 के पार हो गये, रसोई गैस 1200 हो गया, आखिर किस बात के लिये मोदी सरकार को धन्यवाद दे रहे भाजपाई? चीन, नेपाल जैसे देश भारत को आंख दिखा रहे सरकारी नौरत्न कंपनियां बिक रही छत्तीसगढ़ के भाजपाई मोदी के इन नाकामियों को बेशर्मीपूर्वक स्वर्णिम युग बता रहे है।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के राजनैतिक प्रस्ताव में छत्तीसगढ़ सरकार के संबंध में लाया गया राजनैतिक प्रस्ताव भी भाजपा की बौखलाहट को दिखाता है। छत्तीसगढ़ की जनता को भाजपा के कुशासन के 15 साल बाद एक ऐसी सरकार मिली जो जनता के हितों के लिये निर्णय ले रही, किसानों को उनकी उपज की पूरी कीमत मिल रहा। छत्तीसगढ़ का किसान कर्ज मुक्त हो गया है। राज्य में किसान आत्महत्या का बुरा दौरा समाप्त हो गया है। छत्तीसगढ़ के युवाओं को अब सरकारी नौकरी मिलने लगी है, 4 साल में 5 लाख युवाओं को रोजगार मिला, अनुसूचित जाति एवं आदिवासियों को उनका अधिकार मिल रहा, महिला सशक्त हो रही। कांग्रेस की सरकार ने अपने घोषणा पत्र के 90 प्रतिशत से अधिक वायदों को पूरा कर दिया है। खेती का रकबा बढ़ गया, 100 मीट्रिक टन धान की खरीदी हो गयी है। स्वामी आत्मानंद स्कूल से शिक्षा का उजियारा फैल रहा, भाजपा राज में बंद स्कूल फिर से शुरू हो गये। 4.5 लाख से अधिक वन अधिकार पट्टे वितरित हो गये, तेंदूपत्ता संग्राहको को 2500 से 4000 कर दिया गया, बस्तर में शांति बहाली हो रही। राजीव युवा मितान क्लब से युवा स्वावलंबी बन रहे, महिलाओं के प्रति अपराधों में 62 प्रतिशत की कमी हो गयी, राज्य में झलियामारी जैसी घटनाओं का दौर समाप्त हो गया। भाजपा को तो भूपेश सरकार के प्रति धन्यवाद का प्रस्ताव लाना चाहिये था।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा ने बड़ी बेशर्मीपूर्वक आरक्षण के बारे में भी राजनैतिक प्रस्ताव लाया है। भाजपा के षड़यंत्र के कारण सर्व समाज का 76 प्रतिशत आरक्षण राजभवन में रूका हुआ है। भाजपा की नीयत का खोट इसी से एक बार फिर से साबित हो गया कि भाजपा राजभवन से आरक्षण संशोधन विधेयक पर हस्ताक्षर करने के लिये अपने राजनैतिक प्रस्ताव में कुछ नहीं कहा। भाजपा नहीं चाहती आदिवासी समाज को 32 प्रतिशत, अनुसूचित जाति को 13 प्रतिशत, ओबीसी को 27 प्रतिशत तथा सवर्ण गरीबों को 4 प्रतिशत आरक्षण मिले।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि मुद्दाविहीन भाजपा ने अपनी कार्यसमिति में भी प्रदेश की जनता को भरमाने और झूठ परोसने का काम किया है। उसके पास किसान, नौजवान, महिला, मजदूर, गरीब, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ओबीसी के लिये बोलने को कुछ नहीं है इसलिये वह छत्तीसगढ़ की शांत फिजा को खराब करने फर्जी धर्मांतरण और सांप्रदायिकता के घिसे-पीटे राग को अलाप रही है लेकिन उसका झूठ छत्तीसगढ़ में नहीं चलने वाला।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *