Saturday, May 18

स्वास्थ्य के क्षेत्र में लाएं बेहतर परिणाम- कलेक्टर 

कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

जगदलपुर । कलेक्टर श्री विजय दयाराम के.ने कहा है कि जिले में स्वास्थ्य सेवाओं की सुलभता के लिए अच्छा कार्य कर बेहतर परिणाम लाएं। इस दिशा में सभी बीएमओ और सम्बन्धित अधिकारी-कर्मचारी अपने मूल काम को जिम्मेदारी के साथ निर्वहन करें,फील्ड में आम जनता को अपनी स्वास्थ्य सेवाओं की समुचित उपलब्धता सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री विजय ने मंगलवार को कलेक्टोरेट के प्रेरणा कक्ष में स्वास्थ्य विभाग की विस्तृत समीक्षा करते हुए उक्त निर्देश दिए।

कलेक्टर ने मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम और राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने पर जोर देते हुए कहा कि गर्भवती महिलाओं का पंजीयन सहित निर्धारित स्वास्थ्य जांच एवं दवाइयों की सुलभता और लक्षित माताओं एवं बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण अनिवार्य रूप से सुनिश्चित किया जाए। गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य जांच, टीकाकरण, गर्म भोजन प्रदाय एवं स्वास्थ्य परामर्श का परिणाम सुरक्षित प्रसव में परिलक्षित हो। उन्होंने गर्भवती महिलाओं के पंजीयन के अनुरूप सभी को संस्थागत प्रसव सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए बेहतर रणनीति के साथ कार्य करने निर्देशित किया कि पर्याप्त चिकित्सक, अमला और सुविधाओं की समुचित व्यवस्था है इसे दृष्टिगत रखते हुए शत-प्रतिशत संस्थागत प्रसव सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर ने संस्थागत प्रसव हेतु महारानी जिला अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल को पृथक-पृथक लक्ष्य देने के निर्देश दिए।

एनआरसी में शत-प्रतिशत बेड ऑक्यूपेंसी पर बल

कलेक्टर ने जिले के सभी पोषण पुनर्वास केन्द्रों में शत-प्रतिशत बेड ऑक्यूपेंसी सुनिश्चित करने पर बल देते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर प्रत्येक 15 दिवस के लिए रोस्टर तैयार कर चिन्हित बच्चों को भर्ती कर उपचार किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने आवश्यकता के मद्देनजर मानव संसाधन की व्यवस्था कर बस्तर एवं बास्तानार पोषण पुनर्वास केन्द्र में चार-चार बेड वृद्धि किये जाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सघन मोतियाबिंद जांच एवं उपचार अभियान का तीसरा चरण शुरू कर चिन्हित मरीजों का ऑपरेशन करवाने कहा। वहीं मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के तहत दरभा, बास्तानार, लोहण्डीगुड़ा ब्लॉक और जगदलपुर विकासखण्ड के नानगुर ईलाके में सघन मलेरिया जांच एवं उपचार चलाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने आयुष्मान भारत के अंतर्गत निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप आयुष्मान कार्ड प्रदान करने लिए एनालिसिस कर अभियान संचालित कर पंजीयन पूर्ण किए जाने कहा। बैठक में राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ निवारण कार्यक्रम,परिवार कल्याण कार्यक्रम इत्यादि की बिंदुवार समीक्षा की गई। बैठक के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.आरके चतुर्वेदी, सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक महारानी अस्पताल डॉ.संजय प्रसाद सहित राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों के नोडल अधिकारी, बीएमओ तथा बीपीएम मौजूदर हे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *