Saturday, June 22

रायगढ़ से फिर उठने लगी एयरपोर्ट की मांग 

रायगढ़। रायगढ़ में प्रस्तावित हवाई अड्डे पर अभी तक ग्रहण लगा हुआ है वही अंबिकापुर  में यह तैयार हो चुका है और बिलासपुर में यह शुरू भी हो गया ।  प्रदेश की औद्योगिक नगरी के रूप में विकास कर रहे रायगढ़ जिले को सुविधाओं की दृष्टि से हमेशा ही अछूता रखा जाता है। यहां तक कि पिछले 23  वर्षो से लंबित टर्मिनल की मांग को भी दरकिनार कर दिया गया है। जबकि पड़ोस के राज्य उड़ीसा के झारसुगड़ा को सभी सुविधाएं मिलती जा रही हैं यहां अब एक अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा प्रस्तावित है जबकि घरेलू उड़ानों के लिए यह प्रारम्भ हो चूका है।यहां यह भी उल्लेखनीय है कि झाड़सुगुड़ा और रायपुर से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय उड़ान भरने वाले यात्रियों में अधिकांश यात्री रायगढ़ के ही होते हैं यदि विमानन विभाग स्टेटिस्टिक्स निकालें तो उन्हें पता लगेगा कि दोनों ही स्थानों से यात्रा करने वाले यात्रियों में बड़ी संख्या रायगढ़ की है। पर अब परिस्थितियों को देखते हुए ऐसा लगता है कि रायगढ़ में हवाई अड्डे की प्रासंगिकता को ख़त्म करने की तैयारी है। होना यह चाहिए था कि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा रायगढ़ को मिलता और यहां रेल टर्मिनल भी बन जाता जिससे यहां आने जाने वाली सभी यात्री गाड़ियां यहां रूकती और रायगढ़ एक औद्योगिक नगरी के साथ-साथ इन सुविधाओं के कारण यात्रियों और औद्योगिक घरानों के आकर्षण का केंद्र भी बन जाता।  रेल टर्मिनल और हवाई मार्ग के उपलब्ध होने से और भी औद्योगिक घराने निवेश के लिए रायगढ़ का रुख करते। रायगढ़ व्यापारी संघ ने छत्तीसगढ़ शासन से मांग की है कि वह रायगढ़ में प्रस्तावित हवाई अड्डे के लिए प्रयास करें और शीघ्रता शीघ्र इसे प्रारंभ करवाएं साथ ही रायगढ़ के जनप्रतिनिधि और विभिन्न समाज सेवी संस्थाओं से आग्रह किया है कि वह केंद्र सरकार को इस हेतु पत्र लिखें ताकि  रायगढ़ की जनता जो कि प्रदूषण की मार तो बराबर झेल रही है परंतु सुविधाओं की दृष्टि से हमेशा ही उपेक्षित रहती आई है उसे कम से कम इन सारी सुविधाओं के कारण एक बाजार मिल सके। कोरोना,नोटबंदी,और जी एस टी से प्रभावित रायगढ़ का व्यापार जगत डगमगा सा गया है जिसे पटरी पर लाने के लिए इस प्रकार के उपायों की सख्त आवश्यकता है। रायगढ़ व्यापारी संघ के अध्यक्ष राजेंद्र अग्रवाल महामंत्री हीरा मोटवानी ने छत्तीसगढ़ शासन और केंद्र शासन दोनों से ही अनुरोध किया है कि वह रायगढ़ की इस  बहुप्रतिक्षित मांग को शीघ्रता शीघ्र पूरा करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *