Tuesday, April 16

जल जीवन मिशन: राज्य में 16.95 लाख से अधिक परिवारों को मिला घरेलू नल कनेक्शन

जांजगीर-चांपा में सर्वाधिक 1.47 लाख से अधिक परिवारों को
घरेलू नल कनेक्शन

रायपुर, 02 दिसम्बर 2022/ राज्य के ग्रामीण अंचलों में निःशुल्क घरेलू नल कनेक्शन देने का काम तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में जल जीवन मिशन के अंतर्गत घरों में शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत अंतर्गत अब तक 16 लाख 95 हजार 222 घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं। इसके साथ-साथ राज्य के 43 हजार 844 स्कूलों, 41 हजार 661 आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा 17 हजार 278 ग्राम पंचायत भवनों और सामुदायिक उप-स्वास्थ्य केन्द्रों में टेप नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की व्यवस्था की गई है। जिसमें छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में सबसे अधिक 1 लाख 47 हजार 816 ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्रकुमार के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे जल जीवन मिशन के अंतर्गत राज्य में प्रति व्यक्ति, प्रति दिन 55 लीटर के मान से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना है, इसके लिए सभी जिलों में कार्ययोजना तैयार कर तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। इस मिशन के तहत घरेलू नल कनेक्शन के अतिरिक्त स्कूल, उप-स्वास्थ्य केंद्र एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में रनिंग वाटर की व्यवस्था भी की जा रही है।

जल जीवन मिशन के तहत अब तक राजनांदगांव जिलें में 1 लाख 23 हजार 594, रायपुर जिलें में 1 लाख 3 हजार 18, रायगढ़ जिलें में 1 लाख 2 हजार 414, धमतरी जिले में 1 लाख 673, बलौदाबाजार-भाटापारा में 84 हजार 405, बेमेतरा 79,994, कवर्धा 82 हजार 415, दुर्ग 76 हजार 285, बिलासपुर जिले में 77 हजार 618 और महासमुंद जिलें में 74 हजार 285 नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं। इसी तरह गरियाबंद 63 हजार 539, बीजापुर 18 हजार 804, कांकेर 53 हजार 333, नारायणपुर 10 हजार 355, मुंगेली में 59 हजार 904, बालोद में 62 हजार 54, दंतेवाड़ा में 17 हजार 300, कोण्डागांव में 37 हजार 709, बस्तर में 48 हजार 227, कोरिया में 38 हजार 482, सुकमा में 16 हजार 816, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 17 हजार 558, सूरजपुर में 37 हजार 669, जशपुर में 45 हजार 388, कोरबा में 43 हजार 411, बलरामपुर में 37 हजार 392 और सरगुजा जिले के 34 हजार 728 ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *