Friday, June 14

बच्चों को मोटिवेट करते हुए उनके झिझक को करें दूर कलेक्टर: रानू साहू

स्कूल में बच्चों से कराएं ऑसर राईटिंग प्रेक्टिस-कलेक्टर श्रीमती रानू साहू
बच्चों को मोटिवेट करते हुए उनके झिझक को करें दूर
कलेक्टर श्रीमती साहू ने ली शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक

रायगढ़, 29 दिसम्बर 2022/ कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज जिला पंचायत के सभाकक्ष में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए नवाचारी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए जिले में बेहतर शैक्षणिक वातावरण तैयार करने कहा, जिससे बच्चे अच्छे परिणाम प्राप्त करने के साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं में अधिक से अधिक चयनित हो सके। उन्होंने सभी बीईओ को विशेष रूप से कहा कि स्कूल में पढऩे वाले बच्चों को आंसर राईटिंग की प्रेक्टिस करायें ताकि बच्चे एग्जाम के समय अपने उत्तर पुस्तिका में नियत समय में पूरा आंसर सही व अच्छे ढंग से लिख सके। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा भी उपस्थित रहे।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक के दौरान कमजोर बच्चों को विशेष फोकस करने के निर्देश दिए। उनके लिए अलग से एकस्ट्रा क्लास लगाने और पढ़ाई का माहौल बनाने के लिए निर्देशित किया। बैठक में कलेक्टर श्रीमती साहू ने स्कूलों में शिक्षकों की नियमित उपस्थिति, स्कूलों की सतत मॉनिटरिंग और छात्रों की शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने बच्चों के व्यक्तित्व विकास के लिए हर सप्ताह खेल-कूद, निबंध, भाषण, लेखन प्रतियोगिता जैसी गतिविधियां कराये जाने कहा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कहा कि बच्चों के मन में जो झिझक होती है उन्हें दूर करें। उन्हें किताबी ज्ञान के अलावा अपने जिला एवं राज्य से जो व्यक्ति सफल हुए है उनके बारे में जानकारी दे। बच्चों को मोटिवेट करें, उनके प्रतिभा को निखारे और उन्हें बताये कि आप भी पढ़ाई करके उस मुकाम तक पहुंच सकते है।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक के दौरान स्कूल में बनाये जा रहे जाति प्रमाण-पत्र के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र के कार्यो को तेजी से करने निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने लैलूंगा, तमनार एवं धरमजयगढ़ के खराब प्रदर्शन पर गहरी नाराजगी जतायी। उन्होंने कहा कि बच्चों का जाति पत्र बनवाना सुनिश्चित करें। इसमें लापरवाही होने पर संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने छात्रवृत्ति के संबंध में भी चर्चा की एवं सभी पात्र बच्चों को इसका लाभ दिलाने को कहा। स्कूलों में शौचालयों की नियमित साफ-सफाई कराने तथा शिक्षकों को निर्धारित समयावधि में नियमित उपस्थित रहने के निर्देश दिए एवं समय पर स्कूलों में अनुपस्थित पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की बात कही। बैठक के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी श्री बी.बाखला, सहायक संचालक शिक्षा श्रीमती दीप्ति अग्रवाल, जिला मिशन समन्वयक श्री नरेन्द्र चौधरी, विकासखंड शिक्षा अधिकारी उपस्थित रहे।
मध्यान्ह भोजन में गुणवत्ता का रखें विशेष ध्यान
कलेक्टर श्रीमती साहू ने शिक्षा विभाग की बैठक में मध्यान्ह भोजन के बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा कि मध्यान्ह भोजन बच्चों के लिए पूरक पोषण के स्रोत और उनके स्वस्थ विकास के रूप में भी कार्य करता है। इसलिए इसमें किसी भी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उनके भोजन में प्रोटीन वाले आहार जैसे सोयाबीन बड़ी के साथ हरी सब्जियां, भाजी को शामिल करें। मध्यान्ह भोजन के संबंध में शिकायत नहीं मिलनी चाहिए।
उत्कृष्ट शिक्षक होंगे 26 जनवरी को सम्मानित
कलेक्टर श्रीमती साहू ने बैठक के दौरान समस्त बीईओ से कहा कि स्कूलों के ऐेसे शिक्षक जिन्होंने बच्चों के लिए पढ़ाई में उत्कृष्ट कार्य किया हो अथवा स्कूल स्टॉफ  जिन्होंने शाला में रहते हुए अच्छा प्रदर्शन किया है। उन सभी को आगामी 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर सम्मानित किया जायेगा।
रायगढ़ की श्रृष्टि हारमोनियम वादन में करेंगी राज्य का प्रतिनिधित्व, कलेक्टर ने दी शुभकामनाएं
कु.श्रृष्टि डनसेना को स्वर वादन (हारमोनियम)में लोककला उत्सव में छत्तीसगढ़ में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर कलेक्टर श्रीमती साहू ने उन्हें बधाई व शुभकामनाएं दीं। कलेक्टर ने उन्हें जिला प्रशासन की तरफ  से हर संभव मदद करने की बात भी कही। ज्ञात हो कि कृष्ण वाटिका रायगढ़ में रहने वाली कु.श्रृष्टि डनसेना कक्षा 11 वीं में अध्ययनरत है। जिन्होंने पढ़ाई में अपना स्थान बनाने के साथ ही स्वर वादन (हारमोनियम)में अपनी प्रतिभा दिखाई और छत्तीसगढ़ राज्य लोककला उत्सव में छत्तीसगढ़ राज्य में अव्वल आने के बाद अब वे भुवनेश्वर में राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में राज्य का प्रतिनिधित्व करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *