Tuesday, April 16

इंद्रावती टायगर रिजर्व में हुई नए बाघ की पुष्टि

इंद्रावती टायगर रिजर्व में हुई नए बाघ की पुष्टि

बीजापुर 28 नवम्बर 2022. इन्द्रावती टायगर रिजर्व बीजापुर के उप निदेशक श्री गणवीर धम्मशील ने बताया कि इन्द्रावती टायगर रिजर्व में नये बाघ देखने को मिला हैं जिसकी पुष्टि ॅससए ज्पहमत ब्मसस देहरादून द्वारा की गई है। इन्द्रावती टायगर रिजर्व बाघों के रहवास के लिए उपयुक्त स्थल हैं, जहां बाघ के अलावा अन्य वन्यजीव भी निवास करते हैं जिसमें मुख्य रुप से वन भैंसा जो छत्तीसगढ़ राज्य का राजकीय पशु है, यहां पाया जाता हैं। साथ ही गौर, तेन्दुआ, भालू, नीलगाय, हिरण, सांभर, जंगली सुअर इत्यादि वन्यप्राणियों का भी यह रहवास स्थल है। छत्तीसगढ़ के इन्द्रावती टायगर रिजर्व 2799.086 वर्ग किलोमीटर के भौगोलिक क्षेत्र में फैला हुआ हैं जो महाराष्ट्र एवं तेलंगाना के वनक्षेत्र से लगा हुआ हैं जो बाघों के विचरण के लिए उपयुक्त कॉरिडोर का काम करता है।
इन्द्रावती टायगर रिजर्व प्रबंधन वन्यजीवों की मॉनिरिंग एवं सुरक्षा का कार्य लगातार कर रहा हैं एवं मैदानी अमलों द्वारा फुट पेट्रोलिंग के माध्यम से लगातार वन्यजीवों की सुरक्षा एवं निगरानी की जा रही है। इन्द्रावती टायगर रिजर्व के उप निदेशक ने बताया कि वन्यजीव संरक्षण के प्रति जागरुकता लाने के लिए ग्रामीणों के साथ मिलकर वन्यजीव संरक्षण का कार्य लगातार किया जा रहा हैं जिससे वन्यजीव संरक्षण के साथ-साथ स्थानीय ग्रामीण एवं युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *