Friday, June 21

सामुदायिक वन संसाधन हक एवं पेसा नियम पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

उत्तर बस्तर कांकेर 23 दिसम्बर 2022ः- सामुदायिक वन संसाधन हक एवं पेसा नियम के संबंध में आज जिला पंचायत कांकेर के सभाकक्ष में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।  संसदीय सचिव श्री शिशुपाल शोरी, विधायक अंतागढ़ श्री अनूप नाग, मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार श्री राजेश तिवारी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री हेमंत ध्रुव, उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला, अपर कलेक्टर एस. अहिरवार एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुमीत अग्रवाल की उपस्थिति में आयोजित इस कार्यशाला में पेसा नियम और सामुदायिक वन संसाधन अधिकार के प्रावधानों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई। मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री राजेश तिवारी द्वारा वन संसाधन अधिकार के संबंध में विस्तार से जानकारी दिया जाकर शंकाओं का समाधान भी किया गया। मास्टर ट्रेनर्स श्री अश्वनी कांगे एवं प्रखर जैन द्वारा पेसा कानून और श्रीमती नमिता मिश्रा द्वारा वन संसाधन अधिकार के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया।
मास्टर ट्रेनर्स श्रीमती नमिता मिश्रा द्वारा वन संसाधन अधिकार पर कार्यशाला में ग्रामसभा के पारंपरिक सीमा का निर्धारण एवं आने वाली चुनौतियों का निराकरण, पारंपरिक सीमा के भीतर वनों की सुरक्षा, सरंक्षण एवं प्रबंधन हेतु समितियों के गठन एवं पुनर्गठन, ग्रामसभा का आयोजन, यह समिति किस प्रकार कार्य करेगी और विभिन्न विभागों जैसे-वन विभाग, पंचायत एवं राजस्व विभाग से समन्वय कर वन संसाधन, वन्य जीव और जैव विविधता के संरक्षण के साथ जल स्रोतों और पारिस्थितिकीय संवेदनशील क्षेत्र पर्याप्त रूप से संरक्षित करने विषय पर विस्तृत रूप से अवगत कराया गया तथा इस विषय पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रश्नों का उत्तर देते हुए उनके शंकाओं का समाधान भी किया गया।
कार्यशाला के द्वितीय सत्र में मास्टर ट्रेनर्स अश्वनी कांगे एवं प्रखर जैन द्वारा छत्तीसगढ़ पंचायत उपबंध (अनुसूचित क्षेत्रों पर विस्तार) पेसा नियम एवं प्रावधानों के क्रियान्वयन हेतु सभी विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारियों को प्रषिक्षण दिया गया। प्रत्येक ग्राम में ग्रामसभा के अध्यक्ष का निर्वाचन तथा ग्रामसभा की दो कार्यकारिणी समिति, संसाधन नियोजन एवं प्रबंधन तथा शांति एवं न्याय समिति के गठन की प्रक्रिया से कार्यषाला में जानकारी दी गई। पेसा नियम के अंतर्गत ग्रामसभा को विस्तृत अधिकार के संबंध में भी जानकारी दिया गया। कार्यषाला में जनपद अध्यक्ष कांकेर रामचरण कोर्राम, अंतागढ़ बद्रीनाथ गावड़े, उपाध्यक्ष जनपद कांकेर रोमनाथ जैन, उपाध्यक्ष चारामा सत्तार खान, जिला पंचायत सदस्य नरोत्तम पडोटी, सभी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), वन विभाग के सभी अनुविभागीय अधिकारी सहित कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन, मछली पालन, महिला एवं बाल विकास इत्यादि विभागों के अधिकारी, जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा समाज सेवी संस्था के प्रतिनिधि उपस्थित थे। मंच का संचालन संजीत श्रीवास्तव द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *