Friday, February 23

छत्तीसगढ़ में महिलाओं की स्थिति में आमूलचूल परिवर्तन, भूपेश सरकार में खुले हैं न्याय और समृद्धि के द्वार

कांग्रेस राज में महिलायें ज्यादा सुरक्षित हुई है

रायपुर 21 सितंबर 2023। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की भूपेश सरकार ने महिला समृद्धि और स्वाभीमान के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि एक तरफ जहां छत्तीसगढ़ में भाजपा के 15 साल के कुशासन में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध चरम पर थे, हर गांव में एक महिला को ग्राम प्रहरी बनाने का वादा 2003 में किया था, सरकार में रहते ठगते रहे, एक भी नहीं बनाए, कांग्रेस की सरकार बनने के बाद महिलाओं के प्रति अपराधों में 68 प्रतिशत की कमी आई, कांग्रेस राज में महिलायें ज्यादा सुरक्षित है, दूसरी ओर भूपेश सरकार ने पहले दिन से ही महिलाओं के हित में ऐतिहासिक फैसले लिए हैं। भूपेश सरकार में आंगनवाड़ी सहायिका, कार्यकर्ताओं का मानदेय लगभग दुगना हो गया है, रसोइयों के मानदेय में सम्मानजनक वृद्धि की गई है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि भूपेश सरकार ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में सहायता राशि 25 हजार से बढ़कर 50 हजार किया गया। महिला समूहों के 12 करोड़ 70 लाख़ की ऋण माफी की गई। 85 हजार से ज्यादा महिलाओं को गोठानो में महिला समुह के माध्यम से जोड़कर आर्थिक समृद्धि के द्वार खोलें हैं। 50 हजार से अधिक महिलाओं को वनोपज प्रसंस्करण से जोड़ा गया है। छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के अंतर्गत छत्तीसगढ़ में 2 लाख 54 हजार स्व सहायता समूह से करीब 27 लाख महिलाएं स्वरोजगार प्राप्त कर रही हैं। महिला हितैसी होने का ढोंग करने वाले भाजपाई छत्तीसगढ़ में 15 साल सरकार में रहने के दौरान केवल वादा खिलाफी करते रहे।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि 15 साल रमन राज में छत्तीसगढ़ की बहन बेटियां कुपोषण एनीमिया और मलेरिया जैसी बीमारियों से जूझती रही, रमन सरकार केवल कमीशन खोरी में मस्ती थी, भूपेश सरकार आने के बाद पिछले साढ़े साल में छत्तीसगढ़ में कुपोषण, एनीमिया के आंकड़ों में लगातार कमी आई है मलेरिया का संक्रमण दर चार गुना कम हुआ है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने कहा कि छत्तीसगढ़ की समृद्धि में छत्तीसगढ़ की नारी शक्ति का बड़ा योगदान भूपेश सरकार आने के बाद संभव हो सका है। महिलाओं को बेहतर अवसर मिले हैं जिसका सुखद परिणाम है की अर्थव्यवस्था के तीनों सेक्टर कृषि, सेवा और उत्पादन में छत्तीसगढ़ का औसत राष्ट्रीय औसत से अधिक है। महिला सुरक्षा, समृद्धि और स्वाभिमान भूपेश सरकार की प्राथमिकता है और उसी का परिणाम है कि छत्तीसगढ़ ने समृद्धि, सुशासन और विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *