Sunday, May 19

राजनांदगांव : आदर्श मतदान केन्द्र 216-टेड़ेसरा में हॉकी की नर्सरी की झलक

– अधिक से अधिक युवा, खिलाड़ी, महिला, वरिष्ठ नागरिक एवं अन्य मतदाता को मतदान के लिए प्रोत्साहित करने हेतु हॉकी नर्सरी थीम पर की गई आकर्षक साज-सज्जा
– हॉकी एवं निर्वाचन संबंधी सेल्फी पॉइंट, जिले के हॉकी खिलाडिय़ों के इतिहास का प्रदर्शन, हॉकी ट्रेक के रूप में मतदान केन्द्र प्रवेश द्वार, 2 गोल पोस्ट, गुब्बारों से की गई सजावट


राजनांदगांव 25 अप्रैल 2024। जिले में लोकसभा निर्वाचन 2024 में विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 75-राजनांदगांव अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत टेड़ेसरा के मतदान केन्द्र क्रमांक 216-शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला टेड़ेसरा पश्चिम भाग की आदर्श मतदान केन्द्र के रूप में हॉकी की नर्सरी की थीम पर आकर्षक साज-सज्जा की गई है। मतदाताओं को सुविधा प्रदान करने, सुगम मतदान सुनिश्चित करने, मतदाताओं को मतदान के लिए प्रोत्साहित करने तथा निर्वाचन को उत्सव के रूप में मनाने के उद्देश्य से कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री संजय अग्रवाल के मार्गदर्शन में मतदान तिथि शुक्रवार 26 अप्रैल 2024 को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक आदर्श मतदान केन्द्र क्रमांक 216-टेड़ेसरा में मतदान कार्य संपन्न कराया जाएगा। जिला पंचायत सीईओ सुश्री सुरूचि सिंह ने बताया कि पूर्व में हुए निर्वाचन कार्यक्रम में मतदान केन्द्र क्रमांक 216-टेड़ेसरा का मतदान प्रतिशत कम होने के कारण इसे आदर्श मतदान केन्द्र के रूप में विकसित किया गया है।
ज्ञातव्य है कि आदर्श मतदान केन्द्र 216-टेड़ेसरा का थीम हॉकी की नर्सरी है। इस आदर्श मतदान केन्द्र में हॉकी एवं निर्वाचन संबंधी सेल्फी पॉइंट, जिले के हॉकी खिलाडिय़ों के इतिहास का प्रदर्शन, हॉकी ट्रेक के रूप में मतदान केन्द्र प्रवेश द्वार, 2 गोल पोस्ट, गुब्बारों से सजावट, दीवाल लेखन सहित अन्य गतिविधियों का प्रदर्शन किया गया है, जो अधिक से अधिक युवा, खिलाड़ी, महिला, वरिष्ठ नागरिक एवं अन्य मतदाता को मतदान के लिए प्रोत्साहित एवं आकर्षित करेगा। आदर्श मतदान केन्द्र 216-टेड़ेसरा हॉकी की नर्सरी की थीम में बताया गया है कि हॉकी के जादूगर के नाम से प्रसिद्ध देश के हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद द्वारा राजनांदगांव को हॉकी की नर्सरी नाम दिया गया था। अखिल भारतीय स्तरीय महंत राजा सर्वेश्वरदास स्मृति हॉकी प्रतियोगिता में मेजर ध्यानचंद शामिल हुए थे और यहां के हॉकी खिलाडिय़ों से बहुत प्रभावित हुए थे। उन्होंने राजनांदगांव के खिलाडिय़ों को पुरस्कार प्रदान करने के दौरान स्टीक पकडऩे, मैदान में गति एवं नियम के साथ हॉकी खेल के संबंध में विभिन्न जानकारी दी थी। उस दौर में शहर के सभी मोहल्लों में हॉकी की टीम हुआ करती थी। मेजर ध्यानचंद ने शहर के मोहल्लों में पहुंचकर हॉकी खेल के प्रति लोगों का उत्साह देखा था। उन्होंने हॉकी को लेकर संस्कारधानी की खूब प्रशंसा भी की थी।
उल्लेखनीय है कि संस्कारधानी में प्रारंभ से ही हॉकी बहुत ही लोकप्रिय खेल रहा है। यहां से स्वर्गीय एरमन बेस्टियन, नीता डूमरे, सबा अंजुम रेणुका यादव, मृणाल चौबे सहित अन्य हॉकी खिलाडिय़ों ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित हॉकी प्रतियोगिताओं में देश का प्रतिनिधित्व किया है। राजनांदगांव जिले के हर गली-मोहल्ले से हॉकी के सबसे ज्यादा खिलाड़ी निकालते हैं और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जिले का नाम रोशन करते है। संस्कारधानी में हॉकी को लेकर नई पीढ़ी में भी जज्बा कायम है। अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम में बनाए गए एस्ट्रोटर्फ में रोज सुबह-शाम बड़ी संख्या में खिलाड़ी हाथों में स्टीक थामे अपने सपने को उड़ान भरने के लिए प्रशिक्षण देने आते हैं। टोक्यो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम में राजनांदगांव का प्रतिनिधित्व एवं बेहतर प्रदर्शन के बाद हॉकी को लेकर उत्साह और बढ़ा है। छत्तीसगढ़ में लगभग 500 से अधिक ऐसे खिलाड़ी है, जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *