Monday, June 17

भाजपा के षड्यंत्र के चलते आरक्षण बिल राजभवन में अटका

*राजभवन में आरक्षण बिल रुकने के पीछे भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व और राज्य के नेताओ का षड्यंत्र*
*

रायपुर /29 जनवरी 2023/ 58 दिन बाद भी राज भवन में आरक्षण बिल पर हस्ताक्षर नहीं होने पर भाजपा को घेरते हुये प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छोटी-छोटी विषयों को लेकर राजभवन जाने वाले भाजपा के नेता अब आरक्षण बिल रोकने के षड्यंत्र का पर्दाफाश होने के डर से राजभवन नही जा रहे? अपने केंद्रीय नेतृत्व के साथ मिलकर डॉ रमन सिंह अरुण साव नारायण चंदेल आरक्षण बिल को राजभवन में रोकने का षड्यंत्र रचे है।उधर भाजपा के 9 सांसद प्रदेश के 76% आरक्षण बिल के संदर्भ में पारित संकल्प को नौवीं अनुसूची में शामिल होने से रोकने षड्यंत्र कर रहे है ?

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि असल मायने में आर एस एस और भाजपा आरक्षण को खत्म करना चाहती है यही वजह है कि आज 58 दिन बाद भी राजभवन में उस आरक्षण बिल पर हस्ताक्षर नहीं हो पाया है भाजपा प्रदेश की जनता को गुमराह करने के लिए खुद को आरक्षण का हिमायती बताती है और जब राजभवन में आरक्षण भी लटका है तब उसी आरक्षण बिल के खिलाफ बयानबाजी कर रही है भाजपा का यह दोहरा चरित्र प्रदेश के 90% आरक्षित वर्ग देख रहा है कि आखिर कैसे भाजपा ने उस 76% आरक्षण बिल को रोकने का षड्यंत्र किया है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा प्रदेश में सीधे तौर पर कांग्रेस से राजनीतिक मुकाबला नहीं कर पा रही है और 15 साल के रमन शासन काल के कुशासन भ्रष्टाचार किसान विरोधी कृत्य पूरा प्रदेश ने देखा है और 8 साल से नरेंद्र मोदी सरकार की नाकामी वादाखिलाफी भी प्रदेश की जनता देख रही है ऐसे में भाजपा के पास 2023 के चुनाव में जाने के लिए मुद्दा नहीं है तो भाजपा आरक्षण बिल को रोककर अपने घिनौने राजनीतिक मंसूबे को पूरा करना चाहती है पूरा प्रदेश भाजपा की इस आरक्षण विरोधी चरित्र को देख लिया है अब भाजपा को इसका सबक जनता सिखाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *