Monday, May 20

जशपुरनगर : जिले में हो रहे उत्कृष्ट कार्य से प्रेरणा लेकर अब झारखंड के सिमडेगा में घुलेगी महुआ की मिठास

कुरडेग के महिलाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त कर  अपने गांव में फ़ूड ग्रेड  महुआ कलेक्शन का काम किया शुरू
जशपुरनगर 14 अप्रैल 2024/जशपुर से फूड ग्रेड महुआ जमा करने का प्रशिक्षण लेकर अब पड़ोसी राज्य में भी ग्रामीणों रोशनी  आजीविका महिला स्व सहायता समूह खलीजोर कुरडेग ने शुरू किया फूड ग्रेड महुआ का संग्रहण कुछ दिन पहले जशपुर जिले में फूड ग्रेड महुआ संग्रहण की कार्यशाला आयोजित की गई थी जिसमे जवाहर महाराष्ट्र एव सिमडेगा झारखंड के आदिवासी किसान एव महिलाओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया था। जो अब वापस जाकर अपने गांव में फ़ूड ग्रेड  महुआ कलेक्शन का काम शुरू कर दिया है।

जय जंगल फार्मर्स प्रोड्यूसर कंपनी के निर्देशक एव खाद्य प्रसंस्करण सलाहरकार समर्थ जैन ने बताया कि जिला प्रशासन की पहल एव सहयोग से जशपुर में महुआ संग्रहण एव प्रसंस्करण को लिए नेट ईवीएम प्रशिक्षण दिया गया था जिसके काफी अच्छे परिणाम आ रहे हैं। इस साल तीन गांव में फूड ग्रेड महुआ संग्रहण का कार्य किया जा रहा है। सिमडेगा झारखंड के महिला स्व सहयता समूह ने कुछ नेट की मांग की थी जिससे इस साल वो फूड ग्रेड महुआ संकलन का कार्य कर सकें , उन्हें लगभग 10 पेड़ों के लिए नेट प्रदान किया गया है, संग्रहण के बाद महुए से विभिन्न खाद्य पदार्थ बनाने की भी योजना है।अब जिले में हो रहे उत्कृष्ट कार्य से प्रेरणा लेकर अब झारखंड के सिमडेगा में घुलेगी महुआ की मिठास।


रोशनी  आजीविका महिला स्व सहायता समूह खलीजोर कुरडेग की अध्यक्ष अंजना किरण ने बताया कि नेट जमा करना काफी आसान हैं और इस तकनीक से समय की भी बहुत बचत होता है। इस साल हम लोग छोटे रूप में  प्रयास करेंगे ताकि अगले साल के लिए पूरी तैयारी कर सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *