Friday, June 14

कर्नाटक में टीचर ने ली बच्चे की जान:चौथी क्लास के छात्र को फावड़ा मारा, फिर स्कूल की बालकनी से धक्का दे दिया

बच्चे को एम्बुलेंस में अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

नई दिल्ली (IMNB). कर्नाटक के गडग जिले में एक टीचर ने चौथी क्लास के छात्र की पिटाई की, फिर उसे स्कूल की पहली मंजिल की बालकनी से धक्का दे दिया। इससे छात्र की मौत हो गई। पुलिस ने बच्चे के परिवार की शिकायत पर टीचर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपी टीचर फरार है।

फावड़े से की पिटाई
गडक जिले के सीनियर SP शिवप्रकाश देवराजू ने बताया कि मामला हगली गांव के आदर्श प्राथमिक विद्यालय का है। आरोपी कॉन्ट्रैक्ट टीचर था। उसका नाम मुथप्पा है। मृतक छात्र का नाम भरत था। उसकी उम्र 10 साल थी।

छात्र की मां को भी पीटा
पुलिस के मुताबिक आरोपी टीचर ने छात्र भरत की मां की भी पिटाई की थी, जो स्कूल में एक शिक्षिका भी हैं। फिलहाल उनका स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस पिटाई का कारण पता करने में जुटी है।

दिल्ली में भी टीचर ने छात्रा को नीचे फेंका था

दिल्ली के रानी झांसी रोड के इस सरकारी स्कूल की टीचर ने बच्ची को पहली मंजिल से फेंक दिया था।

इससे पहले दिल्ली में भी ऐसा मामला सामने आया था। दिल्ली नगर निगम के एक स्कूल में एक टीचर ने पांचवीं कक्षा की छात्रा पर कथित तौर पर कैंची से हमला किया और फिर उसे स्कूल भवन की पहली मंजिल से नीचे फेंका दिया, जिससे उसके चेहरे की हड्डी टूट गई।

पुलिस के अनुसार टीचर ने छात्रों के साथ खुद को एक कक्षा के अंदर बंद कर लिया और छात्रा को पकड़ लेने तक ‘हिंसक’ तरीके से उस पर पानी की बोतलें फेंकीं। इसके बाद उसने छात्रा के बाल काटे और उसे बालकनी से फेंक दिया। आरोपी शिक्षिका को शनिवार को 20 दिसंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

भोपाल में टीचर ने छात्रा के कान में थप्पड़ मारा

क्लास में च्युइंग गम खाकर बैठने पर एक लेडी टीचर ने 12वीं की छात्रा को थप्पड़ मार दिया। इससे छात्रा को सुनाई देना कम हो गया। उसके कान में सूजन है। छात्रा की शिकायत पर पिपलानी पुलिस ने टीचर के खिलाफ किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम 2015 के तहत केस दर्ज किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *