Saturday, May 18

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांकेर में जनसभा को संबोधित किया, कहा की हमारी सरकार बनाए नक्सलवाद को खत्म कर देंगे

रायपुर । केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता श्री अमित शाह ने सोमवार को छत्तीसगढ़ की कांकेर लोकसभा में विशाल जनसभा को संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि, ‘500 साल से टेंट में बैठे रामलला का पहली बार सूर्य तिलक के साथ भव्य मंदिर में जन्मदिन मनाया गया। राम मंदिर निर्माण के लिए कई लोग शहीद हो गए लेकिन कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे को वर्षों से लटकाती, भटकाती और अटकाती रही। मोदी जी दूसरी बार प्रधानमंत्री बनते ही भव्य राम मंदिर का निर्माण करने का काम किया और रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा भी की। राम मंदिर के अलावा काशी विश्वनाथ कॉरिडोर, महाकाल कॉरिडोर, केदारनाथ और बद्रीनाथ का पुनर्निर्माण सहित मोदी सरकार में सोने का सोमनाथ मंदिर भी बन रहा है।’
उन्होंने कहा कि, ‘मोदी जी के पास 10 साल का ट्रैक रिकॉर्ड और अगले 25 साल का एजेंडा है। चार पीढ़ियों से राज करने वाली कांग्रेस पार्टी ने कभी छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना का समर्थन नहीं किया। कांग्रेस ने महतारी वंदन योजना के तहत महिलाओं को पैसा नहीं दिया और ना ही किसानों को पैसा दिया। कांग्रेस ने तेंदु पत्ता वालों को बोनस नहीं दिया, घरों में गैस, बिजली, शौचालय और नल से जल नहीं दिया। कांग्रेस की सरकार ने किसानों के धान को कभी 3,100 रुपये में नहीं खरीदा। मोदी सरकार में गरीबों को आवास, गैस, बिजली, शौचालय, मुफ्त अनाज और नल से जल देने का काम किया जा रहा है। नरेन्द्र मोदी जी ने 60 करोड़ गरीबों को 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य का खर्चा नि:शुल्क कर दिया है। मोदी 3.0 में 70 साल से ऊपर सभी वरिष्ठ नागरिकों को 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दी जाएगी।’
उन्होंने कहा कि, ‘खड़गे जी कहते हैं कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान वालों को कश्मीर से क्या लेना-देना? उन्हें मालूम होना चाहिए कि छत्तीसगढ़ का बच्चा-बच्चा कश्मीर के लिए जान देने को तैयार है। कांग्रेस ने दशकों तक धारा 370 को अनौरस संतान की तरह सम्हाल कर रखा था। मोदी जी ने 5 अगस्त, 2019 को धारा 370 को समाप्त कर दिया। इस देश से आतंकवाद को पूर्णतया खत्म और नक्सलवाद को समाप्ति के कगार पर लाने का काम मोदी जी ने किया है। मोदी जी ने देश को सुरक्षित और समृद्ध करने का काम किया है।’
श्री अमित शाह ने कहा कि, ‘मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के शासन में 5 साल तक महादेव एप कांड चलता रहा। महज 4 महीने के अंदर भारतीय जनता पार्टी की छत्तीसगढ़ सरकार ने 90 से ज्यादा नक्सलवादियों को समाप्त करने का काम किया है। 123 लोग गिरफ्तार हुए, 250 लोगों ने समर्पण किया। आज आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, बिहार, झारखंड और मध्य प्रदेश से नक्सलवाद जड़ से खत्म हो चुका है। आने वाले दो वर्षों में मोदी सरकार छत्तीसगढ़ से नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ फेंकेगी। आदिवासियों के घरों में बिजली नहीं पहुँचती है, स्कूल नहीं है, राशन की दुकान नहीं है।’
उन्होंने कहा कि, ‘कांग्रेस ने सालों तक आदिवासी मंत्रालय नहीं बनाया लेकिन अटल बिहारी वाजपेयी जी ने छत्तीसगढ़ राज्य भी बनाया और आदिवासी मंत्रालय का भी गठन किया। मोदी जी ने जल, जंगल और जमीन के साथ-साथ सुरक्षा, सम्मान और समावेशी विकास की दिशा में काम किया है। आजादी के बाद पहली बार मोदी सरकार में ओडिशा के गरीब आदिवासी बेटी द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति का दर्जा दिया गया, जिससे आदिवासियों का गौरव बढ़ा है। मोदी जी ने भगवान बिरसा मुंडा की जन्म जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान में 200 करोड़ रुपये की लागत से 10 आदिवासी संग्रहालय का निर्माण किया गया है। कांग्रेस की सरकार में आदिवासियों के लिए बजट 24 हजार करोड़ रुपये था, लेकिन मोदी जी ने इस बजट को बढ़ाकर 1 लाख 24 हजार करोड़ रुपये कर दिया। मोदी सरकार में तेंदु पत्ता के लिए बोनस दिया गया, एकलव्य स्कूल का निर्माण हुआ और 1 लाख छात्रों को छत्रवृत्ति दिया गया।’
श्री अमित शाह ने कहा कि, ‘राहुल गांधी ने घोषणापत्र में संपत्ति के सर्वे की बात की है। मनमोहन सिंह ने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला हक अल्पसंख्यकों का है, आदिवासियों का नहीं। जिस पार्टी की नजर देश भर के मठ और मंदिरों की संपत्ति पर है, उसके बारे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह संपत्ति कहाँ जाएगी। भारतीय जनता पार्टी ने स्पष्ट किया है कि देश के संसाधनों पर पहला हक गरीब, आदिवासी, दलित और पिछड़ा समाज का है। सत्ता मिलने से पहले ही अभी राँची में इंडी गठबंधन के कांग्रेस और आरजेडी के बीच हाथापाई का नजारा सामने आया है। जिनके बीच खुद एकता नहीं है, वे देश की एकता को बनाकर नहीं रख सकते हैं। नॉर्थ ईस्ट हो, कश्मीर हो या नक्सल प्रभावित क्षेत्र हो, मोदी जी ने पूरे देश को एकजुट करने और अखंड बनाने का काम किया है।’
उन्होंने कहा कि, ‘सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस सरकार ने 10 साल में छत्तीसगढ़ के विकास के लिए मात्र 77 हजार करोड़ रुपये देने का काम किया। जबकि, नरेन्द्र मोदी जी ने छत्तीसगढ़ के विकास के लिए 3 लाख 20 हजार करोड़ रुपये दिया। इसके अलावा, सड़क निर्माण के लिए 25 हजार करोड़ रुपये, रेलवे के लिए 45 हजार करोड़ रुपये, एयरपोर्ट के लिए 2,800 करोड़ रुपये देने का काम मोदी जी ने किया है। मोदी जी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद गरीबों को दिया जाने वाला 5 किलो मुफ्त अनाज 2029 तक दिया जाएगा। अब नल से जल की तर्ज पर घर-घर में पाइप से गैस पहुँचाने का काम मोदी सरकार करेगी।’
श्री अमित शाह ने कहा कि, ‘जब तक नक्सलवाद है तब तक आदिवासी क्षेत्रों में शांति, सड़क, बिजली, शिक्षा, गैस, नौकरी, खाना और इलाज नहीं पहुँच सकती है। आने वाले दो वर्षों में मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार छत्तीसगढ़ से नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ कर विकास की गंगा प्रवाहित करने का काम करेगी। मोदी जी ने 2047 में विकसित भारत का लक्ष्य रखा है। आने वाला पाँच साल विकसित भारत का नींव साबित होने वाला है। विकसित भारत का सबसे बड़ा फायदा किसान, आदिवासी, दलित, युवा, गरीब और महिलाओं को होगा।’
अंत में, उन्होंने 400 पार के साथ प्रचंड बहुमत से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने और तीसरी बार मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने का आह्वान किया।

छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के कुशासन और भाजपा के सुशासन में अंतर समझ रही है

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण की शुरुआत बस्तर से हो चुकी है और हम सभी को अच्छी तरह मालूम है कि जनता का बहुत आशीर्वाद बस्तर लोकसभा में भाजपा को प्राप्त हुआ है। पूरा देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व पर, उनकी गारंटी पर, भाजपा के संकल्पों पर विश्वास व्यक्त कर रहा है। 10 वर्षों में जिस ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ विभिन्न योजनाओं के साथ प्रधानमंत्री श्री मोदी ने स्वच्छ सरकार और सुशासन देश को दिया है, देशभर में चारों तरफ से यही पुकार उठ रही है- फिर एक बार, मोदी सरकार और अबकी बार 400 पार। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की कल्याणकारी योजनाएँ किसी समाज, धर्म, जाति या वर्ग के लिए नहीं, अपितु देश के सभी लोगों के लिए है। श्री देव ने कहा कि देश की आजादी के बाद 70 वर्षों तक कांग्रेस सरकार देश को लूटने में मस्त थी। भ्रष्टाचार, अत्याचार, अनाचार, दुराचार कांग्रेस सरकार की पहचान है। पिछले पाँच साल में छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार की करतूतों को छत्तीसगढ़ की जनता ने देखा है। भूपेश सरकार ने प्रदेश में तबाही मचाही मचा रखी थी। इसीलिए प्रदेश की जनता ने कांग्रेस की अन्यायी और अत्याचारी सरकार को पाँच साल बाद मौका मिलते ही उखाड़ फेंका। श्री देव ने कहा कि आज पूरे देश-प्रदेश और जनजाति बहुल बस्तर-काँकेर में आदिवासी और गरीब कल्याण की योजनाएँ हर व्यक्ति तक पहुँची है। छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के कुशासन और भाजपा के सुशासन में अंतर समझ रही है। कांग्रेस ने जहाँ केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को रोककर जनता को उनके लाभ से वंचित किया, वहीं अब मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार का सुशासन जनता के सामने है। महज तीन महीने में 50 हजार करोड़ रुपए से अधिक की महतारी वंदन, धान खरीदी, बकाया बोनस, अंतर राशि का एकमुश्त भुगतान करके प्रदेश की सरकार ने मिसाल कायम की है। देश में ऐसा किसी प्रदेश सरकार ने नहीं किया।

*मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने भोजराज नाग को सांसद बनाये -भोजराज नाग*

सभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी भोजराज नाग ने कहा कि भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार गाँव, गरीब, किसान, महिला और नौजवान के सर्वतोमुखी उत्थान के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएँ संचालित कर रही है। केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार के कार्यों और उपलब्धियों की विस्तार से चर्चा करते हुए श्री नाग ने कहा कि एक ओर प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में एक नया भारत आकार ले रहा है, वहीं मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के नेतृत्व में भाजपा की सरकार ने मोदी की गारंटी के तहत किये गए वादों को पूरा करने की दिशा में तेजी से काम करके सुशासन को साकार किया है। भाजपा की सरकार ने आदिवासियों का मान-सम्मान बढ़ाया है। अयोध्या में श्रीराम मंदिर के प्राण-प्रतिष्ठा समारोह का बहिष्कार करने के लिए कांग्रेस को आड़े हाथों लेकर श्री नाग ने यह भी कहा कि जबरिया धर्मांतरण रोकने के लिए हम कानून बनाएंगे और धर्मांतरण कर आदिवासी संस्कृति को चोट पहुँचाने वाले धर्मांतरित आदिवासियों की डिलिस्टिंग करने की दिशा में काम करेंगे।

भाजपा की इस महती चुनावी जनसभा को सांसद मोहन मंडावी. पूर्व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विक्रम उसेंडी, पूर्व विधायकगण मंतूराम पवार, देवलाल दुग्गा व शिशुपाल सोरी, सुमित्रा मारकोले ने भी संबोधित किया। सभा के दौरान प्रदेश के वन मंत्री केदार कश्यप, लोकसभा समन्वयक प्रेमप्रकाश पांडेय, बस्तर क्लस्टर प्रभारी अजय चंद्राकर, विधायक द्वय नीलकंठ टेकाम व आशाराम नेताम, कमलचंद्र भंजदेव, रजनीश सिंह, महेश जैन, यशवंत जैन, भूपेंद्र नाग, भरत मटियारा सहित काफी संख्या में भाजपा नेता, पदाधिकारी, कार्यकर्ता और विशाल जनसमूह उपस्थित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *