Sunday, April 14

ग्राम नगधा में वन मितान जागृति शिविर का आयोजन 18 नवम्बर को

बेमेतरा 17 नवम्बर 2022- जिले के नवागढ़ विकासखण्ड के अन्तर्गत ग्राम गिधवा-परसदा की पहचान राष्ट्रीय अन्तराष्ट्रीय स्तर पर होने लगी है जहां देश विदेश से प्रवासी पक्षी आते हैं। मेहमान पक्षियों के संरक्षण के लिए वन विभाग द्वारा ग्राम नगधा में वन मितान जागृति शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर का आयोजन शुक्रवार 18 नवम्बर 2022 को सवेरे 6ः00 बजे से शाम 6ः00  बजे तक किया जा रहा है। वनमण्डलाधिकारी दुर्ग शशि कुमार ने बताया कि सवेरे 6ः00 से 9ः00  बजे तक पक्षी दर्शन, सवेरे 9ः30 से 11ः00 बजे तक सर्पों तथा पक्षियों के विषय में प्रेजेंटेशन, 11ः00 से 1ः00 बजे तक मास्टर ट्रेनर द्वारा स्थल पर विद्यमान, वानिकी गतिविधियों की जानकारी, वन्य प्राणी व पर्यावरण के महत्व का रेखांकन, 2ः00 से 3ः30 बजे तक पर्यावरण संबंधित रोचक गतिविधियां (निबंध, चित्रकला, भाषण प्रतियोगिता), 3ः30 से 5ः00 बजे तक पक्षी दर्शन 5ः00 से 6ः00 बजे तक नेचर, वालेंटियर फोर्स का चयन, फिडबैक, शपथ समूह फोटो एवं सत्र् समापन का आयोजन किया जायेगा।
वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि गिधवा-परसदा में विगत 25-26 साल से विदेशी पक्षी आ रहे हैं। यूरोप-आफ्रिका महाद्वीप से भी हजारो मील समुद्र पार कर पक्षी आते हैं।  इनको यहां संरक्षण मिलता है, उनके लिए भोजन भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहता है। गिधवा-परसदा जलाशय की आर्द्रभूमि (वेटलेण्ड) पक्षियों के लिए अनुकूल है। इस कारण वे शीत ऋतु में हजारो किमी. का सफर तय कर विदेश से आते हैं। शीत ऋतु में अक्टूबर से फरवरी तक पक्षियों का निवास रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *