देश-विदेश

हरी चुनरिया ओढ़ धरती ने कर लिया श्रृंगार। आओ मनाएं खुशियां कि आया हरियाली त्यौहार(विभाश्री साहू न्यूयॉर्क, अमेरिका)
छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, रायपुर, लेख-आलेख

हरी चुनरिया ओढ़ धरती ने कर लिया श्रृंगार। आओ मनाएं खुशियां कि आया हरियाली त्यौहार(विभाश्री साहू न्यूयॉर्क, अमेरिका)

  हरेली तिहार (हरियाली त्यौहार) छत्तीसगढ़ का सबसे प्रमुख त्यौहार है। सावन मास के, कृष्ण पक्ष के अमावस्या तिथि को यह त्यौहार मनाया जाता है। भीषण गर्मी के पश्चात, मानसून के आगमन से ही लोगों के मन में उत्साह बढ़ने लगता है। सावन के महीने में खेतों में और चहु ओर हरियाली छा जाती है, तब लोगों का उमंग और भी बढ़ जाता है। इसी उमंग और उत्साह को छत्तीसगढ़ में सावन के स्वागत में, रिमझिम पहली-पहली फुहार को "हरेली तिहार" (हरियाली उत्सव) के रूप में मनाया जाता है। हरेली तिहार को छत्तीसगढ़ के सभी ग्राम, नगर व कस्बों में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। वैसे तो छत्तीसगढ़ अपने खनिज संपदा, विद्युत उत्पादन के लिए जाना जाता है लेकिन इनके साथ ही छत्तीसगढ़ एक कृषि प्रधान राज्य है। यहां विशेष रूप से धान की खेती की जाती है इसलिए छत्तीसगढ़ को "धान का कटोरा" भी कहा जाता है। हरेली तिहार विशेष रूप से खेतों क...
अमेरिका में रह रहे छत्तीसगढ़ वासियों ने भी दी हरेली की बधाई
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, रायपुर

अमेरिका में रह रहे छत्तीसगढ़ वासियों ने भी दी हरेली की बधाई

Date : July 28th, 2022 श्री गणेश कर ( Founder & Executive President North America Chhattisgarh Association -NACHA) Chicago, America छत्तीसगढ़ की अस्मिता और लोक संस्कृति से जुड़ा त्योहार हरेली।भारत का धान का कटोरा कहे जाने वाले छत्तीसगढ़ राज्य त्योहारों से भरा हुआ है और त्योहारों की श्रृंखला हरेली से शुरू होती है।यह अंधेरे से उज्ज्वल भविष्य में परिवर्तन को दर्शाता है।बेशक बेहतर कल की उम्मीद।छत्तीसगढ़ की ग्रामीण कृषि संस्कृति,परंपरा एवं आस्था सदियो पुरानी है।प्रकृति जब हरियाली रूपी चादर को ओढ़ती है तो किसानो के चेहरे पर भीनी मुस्कान श्रम की सारी थकान को मिटा देती है।वे धरती माता के साथ कृषि यंत्रों की भी पूजा करते है।सात समंदर पार आज हम सभी भी हरेली उत्सव के रंग में रँगे हुए है।ताकि आने वाली पीढियां भी प्रकृति के उत्सव के महत्व को समझ सके।गुड़ की चीला बनाकर पूजा अर्चना करके हमने भी प्र...
मंत्री पद छीनो, पार्टी से निकालो… पार्थ चटर्जी को लेकर TMC महासचिव कुणाल घोष ने खोला मोर्चा, पार्टी में मतभेद
देश-विदेश

मंत्री पद छीनो, पार्टी से निकालो… पार्थ चटर्जी को लेकर TMC महासचिव कुणाल घोष ने खोला मोर्चा, पार्टी में मतभेद

कोलकाता (IMNB)। पार्थ चटर्जी को लेकर टीएमसी में गहरे मतभेद हो गए हैं। एक तरफ ममता बनर्जी की ओर से अब तक पार्थ पर कोई ऐक्शन नहीं लिया गया है तो वहीं पार्टी के महासचिव कुणाल घोष ने ट्वीट कर ऐक्शन की मांग की है। कुणाल घोष ने कहा, 'पार्थ चटर्जी को मंत्री पद और पार्टी के सभी पदों से तत्काल हटा देना चाहिए। उन्हें निष्कासित करना चाहिए। यदि मेरा यह बयान गलत है तो पार्टी के पास हर अधिकार है कि मुझे सभी पदों से हटा दिया जाए।' इससे पहले भी गिरफ्तारी के बाद रविवार को कुणाल घोष ने कहा था कि इस मामले के चलते पार्टी की छवि खराब होगी। कुणाल घोष ने रविवार को भी ट्वीट किया था, 'यह मायने नहीं रखता कि कौन सा नेता है और किस पद पर है। यदि कानून की नजर में गलत पाया जाता है तो फिर पार्टी और सरकार की ओर से उसे बख्शा नहीं जाएगा। इस गिरफ्तारी ने विपक्ष को मुद्दा दिया है। यदि यह जांच लंबी चली तो ऐसा ही जारी रहेगा। ह...
राष्ट्रपति के लिए अधीर रंजन चौधरी ने किया अशोभनीय शब्द का इस्तेमाल, भाजपा ने साधा कांग्रेस पर निशाना
खास खबर, देश-विदेश

राष्ट्रपति के लिए अधीर रंजन चौधरी ने किया अशोभनीय शब्द का इस्तेमाल, भाजपा ने साधा कांग्रेस पर निशाना

नई दिल्ली (IMNB)। संसद से सड़क तक कांग्रेस सरकार के खिलाफ हमलावर है। प्रवर्तन निदेशालय के सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस जबरदस्त तरीके से सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है। इसके अलावा कांग्रेस के सांसद महंगाई और अग्निपथ योजना को लेकर भी प्रदर्शन कर रही हैं। शुक्रवार को भी संसद भवन परिसर में कांग्रेस का प्रदर्शन चल रहा था। इसी दौरान एक निजी चैनल के पत्रकार ने लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी से कुछ सवाल पूछा। इस दौरान अधीर रंजन चौधरी ने राष्ट्रपति के लिए 'राष्ट्रपत्नी' शब्द का इस्तेमाल किया। दरअसल, एबीपी के न्यूज़ रिपोर्टर मैं अधीर रंजन चौधरी से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि धरना देंगे, मार्च करेंगे, प्रदर्शन करेंगे। अभी बहुत कुछ करना बाकी है। इसके बाद रिपोर्टर ने कहा कि कल आप राष्ट्रपति भवन जा रहे थे, जाने नहीं दिया गया। इसके जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा कि आज भी जाने ...
बीजेपी और शिंदे गुट के बीच नहीं बन रही बात? एकनाथ का दिल्ली दौरा रद्द, कैबिनेट विस्तार पर ग्रहण
देश-विदेश

बीजेपी और शिंदे गुट के बीच नहीं बन रही बात? एकनाथ का दिल्ली दौरा रद्द, कैबिनेट विस्तार पर ग्रहण

मुंबई (IMNB)। महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन का अब काफी समय बीत चुका है, लेकिन मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने अभी तक अपनी कैबिनेट का विस्तार नहीं किया है। बुधवार को मुख्यमंत्री इसे अंतिम रूप देने के लिए दिल्ली जाने वाले था, जहां उनकी मुलाकात बीजेपी के आलाकमान से हो सकती थी। लेकिन अंतिम समय में उन्होंने अपना दौरा रद्द कर दिया। हालांकि, उन्होंने इसके कारण नहीं बताए हैं। एकनाथ शिंदे ने हाल ही में कहा था कि वह अगले तीन दिनों में अपनी कैबिनेट का विस्तार कर लेंगे, लेकिन दिल्ली दौरा टलने के बाद फिर कयासों के बाजार गर्म हो गए हैं। लोग अब शिंदे गुट और बीजेपी के बीच के समीकरण पर भी चर्चा करने लगे हैं। आपको बता दें कि सीएम बनने के बाद एकनाथ शिंदे कई बार दिल्ली का दौरा कर चुके हैं। अधिकांश बैठक के बाद कैबिनेट विस्तार पर अंतिम मुहर की बात कही जाती रही है। एकनाथ शिंदे के विद्रोह को एक महीने से अधिक समय बी...
अंतरिक्ष में आउट ऑफ कंट्रोल हुआ चीनी रॉकेट, कहीं भी गिर सकता है मलबा; भारत भी रडार में
खास खबर, देश-विदेश

अंतरिक्ष में आउट ऑफ कंट्रोल हुआ चीनी रॉकेट, कहीं भी गिर सकता है मलबा; भारत भी रडार में

नई दिल्ली (IMNB)। एक चीनी रॉकेट का मलबा अगले कुछ दिनों में कुछ समय के लिए पृथ्वी पर दुर्घटनाग्रस्त होने के लिए तैयार है। जब यह चीने गिरेगा तो दुनिया के एक बड़े हिस्से को प्रभावित कर सकता है। कैलिफ़ोर्निया स्थित एक गैर-लाभकारी संस्था एयरोस्पेस कॉर्प के अनुसार, 24 जुलाई को चीन द्वारा लॉन्च किए गए लॉन्ग मार्च 5B रॉकेट का एक हिस्सा 31 जुलाई के आसपास एक अनियंत्रित रीएंट्री करेगा। आपको बता दें कि बूस्टर का वजन 23 मीट्रिक टन है। एयरोस्पेस की भविष्यवाणियों के अनुसार, मलबे के गिरने के संभावित क्षेत्रों में अमेरिका के साथ-साथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, भारत और दक्षिण पूर्व एशिया शामिल हैं। हालांकि, चीन इस चिंता को सिरे से खारिज कर रहा है। ग्लोबल टाइम्स अखबार ने एक विशेषज्ञ का हवाला देते हुए कहा, "अमेरिका एयरोस्पेस क्षेत्र में चीन के विकास को रोकने में सफल नहीं हो पा रहा है, इसके ऐसे मनगढंत आरोप...
तानाशाह नेता किम ने अमेरिका को दी चेतावनी, बोला- तनाव में परमाणु हथियार का प्रयोग करने से एक इंच नहीं कतराएगा उत्तर कोरिया
देश-विदेश

तानाशाह नेता किम ने अमेरिका को दी चेतावनी, बोला- तनाव में परमाणु हथियार का प्रयोग करने से एक इंच नहीं कतराएगा उत्तर कोरिया

सियोल (IMNB)। दुनिया के नियमों को ताक पर रखने वाला उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन हमेशा अपनी मनमानी करता आया हैं। जहां पूरी दुनिया पर्यावरण को बचाने के लिए कम से कम परमाणु शक्तियों का प्रयोग करने के नियम बना रही हैं वहीं वह लगातार परमाणु परीक्षण करके अपने देश के हथिहारों को बढ़ाए जा रहा है। उत्तर कोरिया में लोग भूख और बीमारी से मर रहे हैं लेकिन उनकी चिंता छोड़कर किन दुनिया के ताकतवर देशों को धमकाने पर लगा है। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने चेतावनी दी कि वह संयुक्त राज्य अमेरिका और दक्षिण कोरिया के साथ संभावित सैन्य संघर्षों में अपने परमाणु हथियारों का उपयोग करने के लिए तैयार हैं। राज्य मीडिया ने गुरुवार को कहा, क्योंकि उन्होंने प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ उग्र बयानबाजी की, उनका कहना है कि कोरियाई प्रायद्वीप को युद्ध के कगार पर धकेल रहे हैं। किम जोंग ने दी अमेरिका के खिलाफ परमाणु बम प्रयो...
*पुरूष नसबंदी पखवाड़ा में उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को मिला 3 पुरस्कार*
छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश, रायपुर

*पुरूष नसबंदी पखवाड़ा में उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को मिला 3 पुरस्कार*

  *पखवाड़ा के दौरान पुरुष नसबंदी में छत्तीसगढ़ पिछले 3 वर्षों से देश में प्रथम स्थान पर* *सर्वाधिक नसबंदी के लिए डॉ. संजय नवल को तथा नसबंदी के लिए कई दंपत्तियों को प्रेरित करने वाली मितानिन श्रीमती केवरा वर्मा को भी मिला पुरस्कार* *केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने आज नई दिल्ली में दिए पुरस्कार* रायपुर. 27 जुलाई 2022. छत्तीसगढ़ को पुरूष नसबंदी पखवाड़ा में उत्कृष्ट कार्यों के लिए केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने तीन पुरस्कारों से नवाजा है। पुरुष नसबंदी पखवाड़ा के दौरान पिछले तीन वर्षों 2019 से 2021 के बीच नसबंदी में छत्तीसगढ़ देश में प्रथम स्थान पर है। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार ने आज नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश को इस उपलब्धि के लिए पुरस्कृत किया। परिवार नियोजन कार्यक्रम के उप संचालक डॉ. टी.के. टोंडर एवं कंसल्ट...
अमृतकाल में अग्निवीर हुई आज़ादी! (व्यंग्य : राजेंद्र शर्मा)
देश-विदेश, लेख-आलेख

अमृतकाल में अग्निवीर हुई आज़ादी! (व्यंग्य : राजेंद्र शर्मा)

ये विपक्ष वाले किस दुनिया में जी रहे हैं। इन्हें क्या लगता है कि इनके यह शोर मचाने से कि खाने-पीने की चीजों पर अंगरेजी राज के जाने के बाद से कोई टैक्स नहीं लगा था, मोदी जी निम्मो ताई से कहकर चावल, आटे, दही, लस्सी वगैरह पर लगी जीएसटी हटवा देंगे या कम से कम अस्पताल के कमरे या शवदाहगृह वाली जीएसटी तो कम करा ही देंगे! हर्गिज नहीं। खाने-पीने की चीजों पर अंगरेजी राज वाले टैक्स की वापसी का शोर विपक्ष वाले चाहे जितना मचा लें, मोदी जी ऐसे शोर से डरने वालों में से नहीं हैं। छप्पन इंच की छाती सिर्फ दिखाने के लिए नहीं, कड़े फैसले लेने के लिए है। जब छप्पन इंच से प्यार किया है, तो कड़े फैसलों से डरना क्या? पहले नोटबंदी, फिर कश्मीर बंदी, फिर कोरोना वाली देशबंदी, फिर कृषि कानून और अब...! हम तो कहेंगे कि आटे, चावल वगैरह पर, रुपये पर पांच पैसे की जीएसटी या अस्पताल के कमरे या शवदाहगृह की सेवाओं पर जी...
अब चौबीसों घंटे लहराएं तिरंगा
छत्तीसगढ़ प्रदेश, देश-विदेश

अब चौबीसों घंटे लहराएं तिरंगा

आजादी के अमृत महोत्सव पर देशवासियों को सरकार की ओर से बड़ा उपहारः फ्लैग फाउंडेशन ऑफ इंडिया नवीन जिन्दल ने फ्लैग कोड संशोधन को दूरगामी बताया नई दिल्ली, 25 जुलाई 2022 – भारतीय लोकतंत्र के सर्वोच्च प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराने का अधिकार जन-जन को दिलाने वाले श्री नवीन जिन्दल ने भारतीय ध्वज संहिता (फ्लैग कोड ऑफ इंडिया) में संशोधन का स्वागत करते हुए देशवासियों का आह्वान किया है कि वे अब अपने घर और प्रतिष्ठान पर 24 घंटे तिरंगा फहराएं। नए संशोधन के अनुसार तिरंगा अब दिन-रात झंडा फहराया जा सकता है। आजादी के अमृत महोत्सव पर सरकार की ओर से भारतीयों के लिए यह बड़ा उपहार है। ट्वीटर के माध्यम से अपने संदेश में श्री जिन्दल ने कहा कि यह बहुत ही महत्वपूर्ण और राष्ट्रहित में दूरगामी फैसला है। अब और अधिक लोग साल के 365 दिन तिरंगा फहराने और तिरंगा के माध्यम से अपनी देशभक्ति का प्रदर्शन करने के...