Thursday, July 18

छत्तीसगढ़ में 4% डीए डीआर के एरियर सहित आदेश जारी कर लोकसभा चुनाव में जीत की खुशी जाहिर करे भाजपा सरकार- वीरेन्द्र नामदेव

*छत्तीसगढ़ के लोकसभा चुनाव के नतीजों में कर्मचारियों और पेंशनरों की भूमिका महत्वपूर्ण*

भारतीय राज्य पेंशनर्स महासंघ के राष्ट्रीय महामंत्री तथा छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष एवम् वरिष्ठ कर्मचारी नेता वीरेन्द्र नामदेव ने छत्तीसगढ़ के लोकसभा सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के भारी बहुमत से 10 सीटों पर जीत पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इस चुनाव में प्रदेश के अधिकारी कर्मचारी और बुजुर्ग पेंशनरों की भूमिका महत्वपूर्ण निरूपित किया है, जो मत पेटी से निकले डाकमत की संख्या ने सिद्ध किया है। इसलिए छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार को दिल्ली में तीसरी बार मोदी सरकार बनने की प्रसन्नता में जनवरी 24 से बकाया 4% डीए डीआर के आदेश एरियर सहित कर छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव में भारी जीत पर खुशी जाहिर करने की मांग की है।

जारी विज्ञप्ति में भारतीय राज्य पेंशनर्स महासंघ छत्तीसगढ़ प्रदेश के अध्यक्ष वीरेन्द्र नामदेव, अन्य पदाधिकारी क्रमश: जयप्रकाश मिश्रा, द्रोपदी यादव, आर एन ताटी, अनिल गोल्हानी,पूरन सिंह पटेल, अनिल पाठक,अनूप श्रीवास्तव,आर एन ताटी, ओ पी भट्ट,बी के वर्मा, राकेश जैन डी पी गजेंद्र,आर जी बोहरे,लोचन पांडेय,रमेश नन्दे,प्रवीण त्रिवेदी, प्रदीप सोनी,आलोक पाण्डे, सी एल चंद्रवंशी,बी एल यादव, कुन्ती राणा,उर्मिला शुक्ला, नरसिंग राम ,आर के नारद,एस के चिलमवार,वंदना दत्ता, सुरेश शर्मा, सी एम पाण्डे,महेश पोद्दार, नागेश कापेवार, अब्दुल वाहिद खान,बसंत गुप्ता, पीतांबर पारकर सोमेश्वर प्रसाद तिवारी,पी आर कटोलकर,नागेन्द्र सिंह, आई एस परिहार , एस पी गौतम, आर डी साहू पी आर साहू,बी के शर्मा, सदा राम ठाकुर,शम्भू नाथ देहारी ,दिवाकर प्रसाद द्विवेदी, पोपट लाल नाग,नामदास साहू, अनंत मोहित दास,दिनेश कुमार सतमन श्रीमती जयमनी ठाकुर, आई सी श्रीवास्तव, के एस ठाकुर, गोपाल यादव, तीरथ यादव, आदि ने आगे बताया गया है कि प्रदेश में एक पेंशनर दस परिवार के नारे देकर विधानसभा चुनाव में पेंशनरों ने ईमानदारी से प्रदेश में अपने परिचित दस परिवार से सम्पर्क कर उन्हे पेंशनरों के हित में कांग्रेस के खिलाफ मतदान के लिए प्रेरित किया और मध्यप्रदेश राज्य पुनर्गठन अधिनियम की धारा 49 को विलोपित करने और कर्मचारियों तथा पेंशनरों का डीए-डीआर एरियर का मामला भूपेश सरकार को ले डूबा। विधानसभा चुनाव की तरह लोकसभा चुनाव में भी पेंशनरों के साथ साथ कर्मचारियों ने भी कर्मचारी हितैषी मामलों पर कर्मचारी हित में निर्णय लेने की भरोसा में भाजपा के लोकसभा उम्मीदवारों का समर्थन किया है और उम्मीद जाहिर किया है कि मोदी की गारंटी को सम्मान देते हुए लोकसभा में भारी जीत से उत्साहित मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय से सबसे पहले कर्मचारियों और पेंशनरों , परिवार पेंशनरों को जनवरी 24 से बकाया 4% प्रतिशत डीए डीआर का एरियर सहित भुगतान करने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *