Wednesday, December 7

Day: July 31, 2022

बिहार में हत्या के मामले में वांछित व्यक्ति दुर्ग से गिरफ्तार
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

बिहार में हत्या के मामले में वांछित व्यक्ति दुर्ग से गिरफ्तार

दुर्ग. बिहार में हत्या के एक मामले में वांछित 40 वर्षीय एक शख्स को छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले से रविवार को गिरफ्तार किया गया. दुर्ग के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) संजय ध्रुव ने बताया कि तीन महीने से फरार आरोपी आफताब आलम को दुर्ग के जमुल थाना क्षेत्र के धौड़ गांव से बिहार पुलिस ने स्थानीय पुलिस की मदद से गिरफ्तार कर लिया. उन्होंने बताया कि आरोपी के सिर पर 50,000 रुपये का इनाम घोषित था. एएसपी ने बताया कि आलम गांव में अपने रिश्तेदार के घर में छुपा हुआ था और उसके ठिकाने की खबर मिलने पर बिहार की पुलिस ने दुर्ग के अधिकारियों से संपर्क किया. ध्रुव ने बताया कि सूचना के मुताबिक, इस साल अप्रैल में सीवान जिले में आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया था. उन्होंने बताया कि उसे ट्राजिट रिमांड पर बिहार ले जाया जा रहा है....
देश तभी आगे बढ़ेगा, जब नागरिकों को संविधान की परिकल्पना के बारे में पता होगा: प्रधान न्यायाधीश रमण
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

देश तभी आगे बढ़ेगा, जब नागरिकों को संविधान की परिकल्पना के बारे में पता होगा: प्रधान न्यायाधीश रमण

रायपुर.प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन वी रमण ने रविवार को कहा कि कोई संवैधानिक गणतंत्र तभी आगे बढ़ सकता है, जब उसके नागरिक इस बात से अवगत हों कि उनके संविधान में क्या परिकल्पना की गई है. न्यायमूर्ति रमण ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को उसके अधिकारों और कर्तव्यों के बारे में जागरूक किया जाना चाहिए. कानून की पढ़ाई करने वाले स्रातकों का प्रयास होना चाहिए कि वे लोगों को संवैधानिक प्रावधानों को सरल शब्दों में समझाएं. उन्होंने हिदायतुल्ला राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय (एचएनएलयू), रायपुर के पांचवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कानून को सामाजिक परिवर्तन का एक साधन बताया और कहा कि विधि स्कूली शिक्षा को स्रातकों को सामाजिक इंजीनियरों में बदलना चाहिए. प्रधान न्यायाधीश ने कहा, ''युवाओं की यह पीढ़ी दुनिया को क्रांति की ओर ले जा रही है. चाहे जलवायु संकट हो या मानवाधिकारों का उल्लंघन वे दुनिया भर में एक ए...
विधिक शिक्षा के विकास में सक्रिय भूमिका निभा रहा है छत्तीसगढ़ः CJI एन वी रमणा
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

विधिक शिक्षा के विकास में सक्रिय भूमिका निभा रहा है छत्तीसगढ़ः CJI एन वी रमणा

रायपुर. उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायधीश न्यायमूर्ति एन. वी. रमणा ने आज रायपुर में कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ज्यूडिशियल कम्युनिटी के बजट और अधोसंरचना सम्बंधित सभी आवश्यकताओं का पूरा ख्याल रख रही है. उन्होंने आशा व्यक्त की कि ये ट्रेंड इसी तरह जारी रहेगा और छत्तीसगढ़ ज्यूडिशियरी को सर्वोत्तम अधोसंरचना उपलब्ध कराने में अग्रणी राज्य बनकर उभरेगा. मुख्य न्यायधीश न्यायमूर्ति एन. वी. रमणा ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ में विधिक शिक्षा के विकास में सक्रिय रूप से सहयोग प्रदान करने के लिए उन्हें बधाई दी. उन्होंने मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़ की जनता को गुड गवर्नेंस प्रदान करने उनके द्वारा किये जा रहे प्रयासों के लिए शुभकामनाएं दीं. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आज देश के सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधिपति न्यायमूर्ति एन वी रमणा हिदायतुल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के पांचवें दीक्षांत समारोह में मु...
दृढ़ इच्छाशक्ति के दम पर दृष्टिहीन छात्रा बनी हिदायतुल्ला नेशनल लॉ युनिवर्सिटी की टॉपर
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश, हेल्थ & लाइफ-स्टाइल

दृढ़ इच्छाशक्ति के दम पर दृष्टिहीन छात्रा बनी हिदायतुल्ला नेशनल लॉ युनिवर्सिटी की टॉपर

रायपुर. मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंख से कुछ नहीं होता , हौंसलों से उड़ान होती है. ये कविता हम हमेशा ही सुनते आए हैं, लेकिन इसे चरितार्थ करके दिखाया है दिल्ली की रहने वाली एक दृष्टिहीन छात्रा यवनिका ने. यवनिका रायपुर के हिदायतुल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से बीएएलएलबी (आनर्स) 2021 बैच की टापर हैं और इन्होंने प्रोफेशनल एथिक्स में गोल्ड मेडल हासिल किया है. यवनिका को ये गोल्ड मेडल यूनिवर्सिटी के पांचवें दीक्षांत समारोह में चीफ जस्टिस आफ इंडिया की मौजूदगी में प्रदान किया गया. यवनिका दृष्टिहीन छात्रा हैं, लेकिन उन्होंने इसे कभी भी अपनी कमजोरी नहीं समझा, बल्कि उनके हौंसले उन्हें उड़ान भरने के लिए लगातार प्रेरित करते रहे. दिल्ली की रहने वाली यवनिका के पिता भारतीय रेल सेवा में अधिकारी हैं तथा मां स्पेशल एजुकेटर के तौर पर काम कर रही थीं. यवनिका ने फैसला लिया कि वो लॉ की पढ...
मछली पालन को कृषि का दर्जा के साथ मछुआरों की बेहतरी के लिए किए जा रहे कार्य: भूपेश बघेल
खास खबर, छत्तीसगढ़ प्रदेश

मछली पालन को कृषि का दर्जा के साथ मछुआरों की बेहतरी के लिए किए जा रहे कार्य: भूपेश बघेल

रायपुर. जब से हमारी सरकार बनी समाज के हर वर्ग के चाहे वह कृषक हो या मजदूर हो सभी वर्ग के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए कार्य किए गए है. मछुआरा वर्ग की बेहतरी के लिए अनेक कार्य किए. मछली पालन नीति बनाई. हमने मछली पालन को कृषि का दर्जा दिया है, जिससे अब मछुआरों को शून्य प्रतिशत पर ऋण की सुविधा मिल रही है. मत्स्य पालकों को अब कृषकों जैसी तमाम सुविधाएं मिलने लगी है. इससे प्रदेश के मछली पालक मछुवारें तेजी से आगे बढ़ेंगे, जीवन स्तर में भी सुधार आएगा और मत्स्य पालन के क्षेत्र में पूरे देश में आगे बढ़ेंगे. यह बात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कृषि विश्वविद्यालय के सभागृह में आयोजित धीवर समाज के महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कही. उन्होंने धीवर समाज को जमीन आबंटन की प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात समाज के लिए सर्वसुविधायुक्त भवन बनाने के लिए मदद देने की बात कही. मुख्यमंत्री ने धीवर समाज के नवनिर्वाचित पदाधिकार...